कैबिनेट ने गरीब कल्याण अन्न योजना को 4 महीने बढ़ाया, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन के आधार पर भेद- भाव।

केंद्रीय कैबिनेट ने गरीब कल्याण अन्न योजना को 4 महीने तक बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। इसके तहत गरीबों को मुफ्त राशन बांटा जा रहा है। कोरोना के दौरान इस योजना को शुरू किया गया था। बाद में इसे 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया था। आज कैबिनेट ने इसे आगे जारी रखने को अप्रूवल दे दिया है।

वंही अधिकतर ग्रामीण में गरीबो को राशन नहीं दिया जाता है।

ग्रामीण क्षेत्रों के कई ऐसे परिवार है जो घर है जो गाँव से शहर तक नहीं जा सकते है जिनके परिजन शहरों में है यह एक -दो बार टीकाकरण के लिए केंद्र पर गए तो टीका ख़तम हो गया। जिसके बाद उन्हें टीका नहीं लगा।

ऐसे में कोटेदार उन्हों को राशन दे रहा है जिन्हे टीका लगा हुआ है। ऐसे कई गरीब परिवार राशन से वंचित रह रहे है। इधर, एक और फैसले में कैबिनेट ने तीनों नए कृषि कानूनों की वापसी के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

Share.

Comments are closed.