लखनऊ राजधानी लखनऊ के मान्यवर कांशीराम जी इकोगार्डन में आज संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वावधान में किसानों की महापंचायत हुई जिसमें ‘बढ़ती कीमतों के मुद्दे पर जोर दिया और कहा कि किसान को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, ‘डीजल बहुत महंगा है और पेट्रोल दोनों 100 रुपये प्रति लीटर के ऊपर चल रहे हैं। उपभोक्ताओं को प्याज 110 रुपये किलो बेची जा सकती है, लेकिन हमें केवल 20-30 रुपये प्रति किलो ही मिलते हैं। हम मुश्किलें झेल रहे हैं, कम दर मिलती है और अधिक लागत पर खेती कर रहे हैं.’

उन्होंने सभी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी देने की मांग की, साथ ही कहा कि यह पराली—धान की कटाई के बाद खेतों में बचे अवशेष—को जलाने से निपटने के अभियानों के अलावा पंजाब में घटते भूजल स्तर के मद्देनजर यह जरूरी है।

राकेश टिकैत ने गरजते हुए कहा 14- महीनों की किसान क्रांति अब जनांदोलन बन चुकी है, तथा पूरा देश इस, समय किसानों की ओर देख रहा है, तथा देश के सभी वर्गों का किसानों को समर्थन प्राप्त है, ये मीडिया के कुछ दलाल है, जो फ़र्जी के सरकारी किसान संगठन गठित कर कानूनों का समर्थक दर्शता रहा और किसानों को सरकार के इशारे पर आतंकवादी, खालिस्तानी, आंदोलन जीवी, पता नहीं क्या क्या कहता रहा, मगर मैं कहता हूं कि आंदोलन के दौरान शाहिद 600- से अधिक किसानों की हत्या का जिम्मेदार यो मोदी है, सबसे बड़ा आतंकी यो मोदी है, इसे जेल में होना चाहिए, वो भी आगरा जेल में ।

किसानो ने कहा ‘सरसों, सूरजमुखी, मेवे जैसी सभी फसलों पर हमें एमएसपी दें…हमें केवल गेहूं और चावल पर एमएसपी मिलता है। सभी फसलों पर एमएसपी की गारंटी दें, फिर हम धान नहीं उगाएंगे तो पराली के कारण वायु प्रदूषण नहीं होगा. हमें पानी बाहर निकालने में दिक्कत होती है.’

आंदोलन के दौरान ‘अपमानजनक संबोधनों’ को लेकर भी खासी नाराजगी है—जिसमें ‘खालिस्तानी एजेंडे’ का आरोप लगना और इस आंदोलन को ‘आतंकवाद के कारण जेल में बंद लोगों की तस्वीरें दिखाने वाले आंदोलनजीवियों’ की तरफ से हाईजैक किए जाने को लेकर नाराजगी भी शामिल है।

दाऊ कलां की हरजीत कौन ने कहा, ‘आखिरकार केंद्र में भाजपा और राज्य में कांग्रेस दोनों ही सरकारें रोजगार के अवसर बढ़ाने में नाकाम रही हैं. वे ड्रग्स की समस्या का समाधान करने में भी विफल रहे हैं. हमारे बच्चे पढ़े-लिखे हैं लेकिन बेरोजगार हैं.’

Share.

Comments are closed.