वेब सीरीज की शूटिंग को लेकर भोपाल में जिस तरह बजरंगदल ने कहती उप्रदव किया है उससे प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े होते है वंही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि शिवराज जी आँख बंद करके बैठे है जबकि भाजपा समर्थकों की गुंडई सरेआम चल रही है।

एक मंच से सभा को संबोधित करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमित शाह और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान छुट्टे सांड हो गए हैं इनको नकेल कसना जरूरी है और नकेल कसने के लिए कांग्रेस उम्मीदवार राज नारायण सिंह को अपना वोट देकर इन पर नकेल कसना हैं।

जबकि ता दें कि बजरंग दल की इस कार्यशैली पर आपत्ति जताते हुए राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से सवाल पूछते हुए दिग्विजय सिंह ने ट्वीट में लिखा, “भोपाल फ़िल्मों की शूटिंग के लिए काफ़ी लोकप्रिय हो गया है। प्रकाश झा देश के ख्याति प्राप्त फ़िल्म निर्माता हैं। क्या प्रकाश झा की यूनिट को भोपाल पुलिस द्वारा संरक्षण नहीं देना चाहिए था?”

जबकि प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने सोमवार को कहा कि भारत भक्ति अखाड़ा ‘फिल्म और वेब सीरीज’ के बनने से पहले ही उसकी पटकथा व सामग्री देखने के लिए एक अलग विभाग बनाएगा।

अब सवाल है या तो प्रकाश झा हिन्दू नहीं है या नहीं प्रकाश झा की अभिव्यक्ति की आजादी खतरें में है जो कहते थे भारत में टॉलरेंस नहीं है अब वही उनको राजनैतिक सरकारों के आधार पर फिल्म बनाना होगा ? यह इसका एक अर्थ है कि हिन्दू वही है जो जय श्री राम के नाम के साथ हिंसा दिखाए।

हालंकि कुछ भी प्रज्ञा ठकुर ने आगे कहा, ‘हम साधु संत पिक्चर नहीं देखते और अब हमें एक विभाग बनाना पड़ेगा। भारत भक्ति अखाड़ा एक विभाग बनाएगा, कोई पिक्चर रिलीज होने से पहले वहां देखी जाएगी। विभाग सिनेमा बनने से पहले ही उसकी पटकथा पढ़ेगा और दिक्कत होने पर सिनेमा बनने ही नहीं दिया जाएगा.’

उन्होंने आगे कहा, ‘हम साधु संत पिक्चर नहीं देखते और अब हमें एक विभाग बनाना पड़ेगा. भारत भक्ति अखाड़ा एक विभाग बनाएगा, कोई पिक्चर रिलीज होने से पहले वहां देखी जाएगी. विभाग सिनेमा बनने से पहले ही उसकी पटकथा पढ़ेगा और दिक्कत होने पर सिनेमा बनने ही नहीं दिया जाएगा. .

गौरतलब है कि बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने रविवार शाम को हिंदुओं को गलत तरीके से चित्रित करने आरोप लगाते हुए फिल्म निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा पर स्याही फेंकी और उनकी वेब सीरीज ‘आश्रम-3’ के शूटिंग स्थल पर तोड़फोड़ व पथराव किया. इससे शूटिंग दल की दो बसों के शीशे टूट गए और एक व्यक्ति घायल हो गया.

Share.

Comments are closed.