महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने दावा करा है कि एनसीबी के अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) के मामले को लेकर एक नया पत्र सामने आया है। इसे एक अज्ञात शख्स ने भेजा है। वह खुद को NCB का ही एक कर्मचारी बताता है. इसमें उसने अपने नाम का खुलासा नहीं करा है.

नवाब मलिक ने आरोप लगाए है कि समीर वानखेड़े मामले को संगीन बनाने के लिए कई बार रेड में मिली ड्रग्स को अधिक मात्रा में दिखाते हैं. मलिक ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए कहा कि उनकी लड़ाई एनसीबी से नहीं है.

बीते कई सालों में संस्था पर सवाल खड़ा नहीं हुआ. एक अधिकारी ने फर्जी सर्टिफिकेट के दम पर नौकरी हासिल की. मंत्री ने कहा कि उन्होंने बर्थ सर्टिफिकेट को शेयर किया, लेकिन वे कभी धर्म के नाम पर राजनीति को बढ़ावा नहीं देते हैं

Share.

Comments are closed.