वाराणसी। अध्यक्ष व जनपद न्यायाधीश के निर्देशानुसार विधिक सचिव कुमुद लता त्रिपाठी ने शनिवार को केन्द्रीय कारागार का वर्चुअल निरीक्षण शिविर का आयोजन किया। इस दौरान बन्दियों को निःशुल्क विधिक सहायता, मौलिक अधिकार व मौलिक कर्तव्यों के बारे में बताया गया।

इस दौरान बन्दियों को गिरफ्तार व्यक्ति केअधिकारों बारे में विधिक सचिव ने बताते हुये कहा कि गिरफ्तार व्यक्ति को भी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से निःशुल्क विधिक सहायता का अधिकार प्राप्त है। वर्तमान में केन्द्रीय कारागार में कुल 1563 बन्दी निरूद्ध है।

विधिक सचिव कुमुद लता त्रिपाठी ने बताया कि शनिवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा चोलापुर, सेवापुरी, चिरईगांव, आराजीलाईन में रजवारी, टटेहरा, हरहुआ, दशरथपुर, बलिरामपुर, चुप्पेपुर, परमानन्दपुर में ग्रामीणों व अन्य व्यक्तियों को आशा व आशा संगनी के द्वारा विधिक जागरूकता शिविर करते हुये उपस्थित व्यक्तियों को मध्यस्थता, निःशुल्क विधिक सहायता एवं लोक अदालत, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के बारे में जागरूक किया गया।

जिला कार्यक्रम अधिकारी, वाराणसी द्वारा निर्देशित आंगनवबाड़ी कार्यकर्ती ने सरौनी, सिघई, बुढापुर, भवानीपुर, परियरा, भैथौली, दिनदारापुर, फुलवरिया, महेशपुर, छितौनी, बरियासनपुर, चिरईगांव, सीवो, शंकरपुर, मिल्कोपुर, चांदपुर, बभनपुरा, रामनगर, महमुदपुर, लेदुपुर, जाल्हूपुर, गुस्तफाबाद, रमचन्दीपुर, गोबरहा, बरथराकला, आशापुर, तोफापुर, बराई, खानपुर, पियरी सहित 3 दर्जन से अधिक ग्राम सभाओं में घर-घर जाकर लोगों को उनके विधिक अधिकार, महिलाओ के कल्याणकारी योजनाओं के बारे में और मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के बारे मे बताया।

तहसील सदर के अन्तर्गत ग्राम सरसौल के लेखपाल दिनेश यादव व ग्राम मुरीदपुर के लेखपाल दिनेश यादव ग्राम प्रधान, तहसील राजातालाब के अन्तर्गत ग्राम तेन्दुई के लेखपाल सुदांशु व ग्राम कनेरी के लेखपाल जयप्रकाश मिश्रा द्वारा ग्राम प्रधान तथा तहसील पिण्डरा के अन्तर्गत ग्राम सेहमलपुर के लेखपाल सुजीत भारती द्वारा ग्राम प्रधान के समन्वय से विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन कर लोगों को लोक अदालत के माध्यम से आपसी समझौते के आधार पर वादो के निरतारण और निःशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने के बाबत जागरूक किया गया।

महिला कल्याण विभाग के संयुक्त तत्वावधान में रानी रामकुमारी वनिता विश्राम में किशोर न्याय अधिनियम, लैगिंक अपराधो से बालकों का संरक्षण अधिनियम, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना सामान्य, कन्या सुमंगला योजना के बारे में जानकारी दी गयी।
सचिव कुमुद लता त्रिपाठी ने बताया कि तहसील पिण्डरा मे पीएलवी मनोज कुमार, संजय कुमार पटेल, संदीप कुमार वर्मा, मदन चौहान द्वारा वाराणसी के रेलवे स्टेशन लगे स्टाल पर लोगों को अमृत महोत्सव के दौरान 30 अक्टूबर को आयोजित होने वाली वृहद विधिक सेवा साक्षरता शिविर के बारे में लोगों को पम्पलेट वितरित करते हुये निःशुल्क विधिक सहायता, मध्यस्थता, राज्य सरकार द्वारा कल्याणकारी योजनाओं के बारे मे जानकारी दी गयी।

साथ ही पीएलवी भरत भुआल द्वारा तहसील पिण्डरा मे जलालपुर तथा पीएलवी शान्ता प्रसाद विश्वकर्मा ने ग्राम जलालीपट्टी में घर-घर जाकर लोगो निःशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने के लिए, लोक अदालत के माध्यम से वादो के निस्तारण के सबंध में, कोविड-19 से बचाव व वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक करने और विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा कल्याणकारी योजनाओं के बारे में बताया गया।

Share.

Comments are closed.