राजस्थान के जैसलमेर जिले में दलित युवक की लोहे की रॉड से बेदम पिटाई की गई है. जिले के सांगड़ थाना क्षेत्र के मेघा गांव की इस घटना के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है, लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी अब तक नहीं हो पाई है।

शिकायत के मुताबिक दलित युवक दिनेश कुमार का अपहरण कर जानलेवा हमला किया गया. हमले का आरोप स्थानीय दबंग युवकों पर लगा है. बताया जा रहा है कि महज बकरी चराने काे लेकर दलित युवक की दबंगों ने लोहे की रॉड से पिटाई की गई है।

दलित की पिटाई को लेकर नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने ट्वीट किया है. बेनीवाल ने राजस्थान पुलिस से कार्रवाई करने की बात कही है. दिनेश को इलाज के लिए जैसलमेर के जवाहर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पीड़ित दिनेश कुमार मेघवाल की लिखित शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है. दिनेश ने पुलिस को बताया कि ”बीते बुधवार सुबह करीब 11 बजे वो अपने गांव मेघा के पास बकरियां चरा रहा था।

इसी दौरान गांव के ही दो युवक विक्रम सिंह व महेंद्र सिंह गाड़ी में आए और मुझे वहां बकरियां चराने से मना किया. मैं कुछ बोलता उससे पहले ही उन्होंने मेरे मुंह में कपड़ा ठूंस दिया. इसके बाद मुझे अपनी गाड़ी में डालकर थोड़ी दूर ले गए.”

गांव के युवक ने बचाई जान
दिनेश ने पुलिस को बताया कि- ”मुझे लोहे के किसी हथियार से विक्रम और महेन्द्र सिंह ने बहुत मारा. मैं चिल्लाया जिस पर वहीं पास में मौजूद गांव के ही एक युवक सुरेश ने मेरी चीख सुनी. सुरेश मुझे बचाने के लिए आया. उसके आने के बाद दोनों युवकों ने मुझे छोड़ा।

अगर सुरेश मौके पर आकार मुझे नहीं बचाता तो वो मुझे जान से मार देते. मैं हमले से बेहोश हो गया था. सुरेश ने मेरे परिजनों को बुलाया और मुझे अस्पताल में भर्ती करवाया. हमने सांगड़ थाने में मामला दर्ज करवा दिया है।

Share.

Comments are closed.