जगदीश पुरा थाने से चोरी के मामले में पकड़े गए आरोपियों सफाई कर्मचारी की मंगलवार रात पुलिस हिरासत में मौत हो गई इसके बाद बवाल की आशंका पर थाना पर बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है आसपास के जिलों से भी पूर्व में यहां रह चुके तेजतर्रार

इंस्पेक्टर बुलाए गए हैं जगदीश पुरा थाने के माल खाने में शनिवार रात को दरवाजा तोड़कर 2500000 रुपए चोरी कर लिए गए थे रविवार सुबह घटना की जानकारी होने के बाद स्पेक्टर अनूप कुमार तिवारी समेत छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था इस मामले में

अज्ञात चोरों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया था और जांच की शुरुआत कर दी गई थी सबसे पहले पुलिस ने थाने में आने वाले प्राइवेट कर्मचारियों की सूची तैयार की इसके बारे में पुलिस ने जानकारी ली थाने में आने और जाने वाले हर व्यक्ति से पूछताछ की गई

पूछताछ में सामने आया क्या प्राइवेट सफाई कर्मी अरुण 2 दिन से थाने में नहीं आ रहा है
पुलिस टीम जब उसके घर पहुंची तो घर से गायब मिला उसके घर में पुलिस को कुछ पैसे मिल गए मंगलवार को पुलिस ने सफाई कर्मियों को

ताजगंज क्षेत्र से पकड़ लिया इससे पूछताछ के बाद पुलिस ने करीब 10 लाख रुपए से अधिक बरामद कर लिए हैं इसके बाद और रुपए बरामद करने की पूछताछ की जा रही थी देर रात पुलिस हिरासत में सफाई कर्मचारी की हालत बिगड़ गई इसके बाद पुलिस ने उसे हॉस्पिटल में भर्ती

कराया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया
इस मामले में आगरा एसएसपी मुनी राज जी ने जानकारी देते हुए बताया कि अरुण जो कि सफाई कर्मी हैं 2 दिन लगातार से थाने नहीं आ रहा

था इसी क्रम में उसकी तलाश की गई और कल शाम को उसे गिरफ्तार कर लिया गया उससे पूछताछ की जा रही थी तभी अचानक उसकी तबीयत खराब हो गई इसकी सूचना परिवार जनों को भी दे दी गई थी पुलिस और और उनके परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे तो वहां के

डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया इसी क्रम में क्षेत्र में बाल्मिक समाज के लोगों में आक्रोश हो गया इसके चलते कई थानों की पुलिस थाना

जगदीशपुरा पर तैनात कर दी गई है किसी प्रकार का बवाल ना हो इसलिए तेजतर्रार अन्य जिलों से पुलिस फोर्स दरोगाओं को भी ड्यूटी पर बुलाई गई थी
पुलिस ने पंचनामा भरकर बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है…..

Share.

Comments are closed.