यूपी एसटीएफ ने प्रयागराज में एडेड जूनियर हाईस्कूल प्रिंसिपल एवं असिस्टेंट टीचर सेलेक्शन परीक्षा-2021 में सॉल्वर गैंग का भंडाभोड़ किया है। एसटीएफ की प्रयागराज यूनिट ने डॉ. केएन काटजू इंटर कालेज के प्रधानाचार्य समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

रविवार को आयोजित परीक्षा का पेपर आउट कराकर नकल कराने की भनक लगते ही एसटीएफ ने छापेमारी की थी। गिरफ्तार दूसरा आरोपित सहायक अध्यापक है।

एसटीएफ की टीम गिरफ्तार दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है। प्रधानाचार्य की बेटी, बेटा, साल्वर और उप प्रधानाचार्य को भी एसटीएफ ने इस मामले में आरोपी बनाया है। वे सभी फरार हैं।

प्रिंसिपल बेटी को करा रहा था नकल

एसटीएफ को भनक लगी कि डॉ. केएन काटजू इंटर कालेज परीक्षा केंद्र में पेपर आउट कराकर साल्वर के जरिए नकल कराई जा रही है। इस इंटर कालेज के प्रिंसिपल की बेटी भी इस परीक्षा में शामिल थी। उसका परीक्षा केंद्र भारत स्काउट गाइड इंटर कालेज में था।

आरोप है कि प्रिंसिपल ने अपनी बेटी को नकल कराने के लिए अपने स्कूल के शिक्षक को लगा दिया। शिक्षक ने प्रश्न पत्र की फ़ोटो मोबाइल में खींचकर भारत स्काउट गाइड कालेज में मौजूद साल्वर को भेज दिया।

एसटीएफ के मुताबिक, कॉलेज के वाइस प्रिंसिपल आकाश खरे, प्रिंसिपल का बेटा अनुग्रह उर्फ छोटू, बेटी आकांक्षा द्विवेदी और सॉल्वर वीरेंद्र कुमार फरार हैं। इनकी तलाश की जा रही है।

737 केंद्रों पर कराई गई परीक्षा

बता दें कि रविवार को जूनियर हाईस्कूल सहायक अध्यापक प्रधानाध्यापक चयन परीक्षा थी। राजधानी में परीक्षा के 78 केंद्र बनाए गए थे। वहीं, पूरे प्रदेश में 737 केंद्रों पर परीक्षा कराई गई। इसमें 39,888 अभ्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए।

दो पालियों में परीक्षा हुई। पहली पाली में 78 केंद्रों पर और दोपहर की पाली में छह केंद्रों पर परीक्षा हुई। इसमें एडेड जूनियर हाईस्कूल के असिस्टेंट टीचर के पदों पर 1504 और प्रिंसिपल के 309 पदों के लिए तीन लाख 39 हजार कैंडिडेट्स ने आवेदन किया था।

Share.

Comments are closed.