केरल के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के कारण इडुक्की और कोट्टायम जिलों में भूस्खलन हुआ है। बारिश से संबंधित घटनाओं में अब तक कुल 9 लोगों की मौत हो गई है।

सरकारी सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है। मौसम विभाग ने रविवार को भी भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना जताई है। इस बीच त्रावणकोर देवासम बोर्ड ने भगवान अयप्पा के भक्तों से अनुरोध किया कि वे 17 और 18 अक्टूबर को सबरीमाला मंदिर में जाने से परहेज करें क्योंकि राज्य के पठानमथिट्टा जिले में भारी बारिश और पंबा नदी में खतरनाक स्तर पर वाटर लेवेल बढ़ना जारी है।

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने शनिवार को पठानमथिट्टा कलेक्ट्रेट में एक समीक्षा बैठक की, जिसमें जिले के निचले इलाकों में जलजमाव का आकलन किया गया. पास के कोट्टायम जिले की तरह ही पठानमथिट्टा में भी बाढ़ जैसी स्थिति देखी जा रही है।

केरल तट से दूर अरब सागर के दक्षिण-पूर्व में कम दबाव के बनने की वजह से हुई भारी बारिश से पठानमथिट्टा जिले के रानी शहर में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है।

Share.

Comments are closed.