नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से प्रियंका गांधी के झाड़ू लगाने पर तंज कसे जाने को लेकर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छता अभियान के तहत झाड़ू लगाने को सिर्फ प्रचार करार दिया है।

दरअसल उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने एक साक्षात्कार के दौरान प्रियंका गांधी के झाड़ू लगाने वाली घटना पर शुक्रवार शाम को प्रतिक्रिया देते हुए कहा, जनता उनको उसी लायक बनाना चाहती है और जनता ने उसी लायक उनको बना दिया है।

वहीं योगी के इस बयान के जवाब में कांग्रेस पार्टी की ओर से राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खडगे ने उन्हें जवाब देते हुए कहा, ”झाड़ू लगा कर कचरा साफ करने में कोई बुराई नहीं है।

योगी आदित्यनाथ की यह साधारण टिप्पणी नहीं है, एक पूरे वर्ग की ओर उनकी नफरत है। झाड़ू तो मोदी जी और आदित्यानाथ ने भी पकड़ा, लेकिन वो जानते हैं कि वो सिर्फ प्रचार था।

उन्होंने कहा, प्रियंका गांधी का लक्ष्य यूपी से अपराध साफ करना है।

इसके साथ ही प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को उत्तरप्रदेश के वाल्मीकि मंदिर में साफ सफाई की। उन्होंने मंदिर परिसर में झाड़ू लगाया। इसके बाद प्रियंका ने मुख्यमंत्री योगी की टिप्पणी के जवाब में कहा, जातिवादी टिप्पणी बर्दाश्त नहीं।

योगी आदित्यनाथ की टिप्पणी दलित विरोधी है। साफ-सफाई, झाड़ू-पोछा करना छोटा काम नहीं है। करोड़ों महिलाओं और दलित समाज का योगी ने अपमान किया है।

Share.

Comments are closed.