तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने गुरुवार को पैरालंपिक एथलीट टी मरिअप्पन कई शतरंज खिलाड़ियों एक कोच को उनके शानदार प्रदर्शन से देश राज्य का नाम रोशन करने के लिए कुल 3.98 करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार दिया।

स्टालिन ने हाल ही में टोक्यो पैरालिंपिक में ऊंची कूद स्पर्धा में रजत पदक जीतने वाले मरिअप्पन को 2 करोड़ रुपये का चेक सौंपा है। उन्होंने राज्य के शतरंज खिलाड़ियों कोच (वी. आनंद, अरविंद चिथंबरम, आर.प्रगगनानंद आर. वैशाली में से प्रत्येक को 20 लाख रुपये, कोच श्रीनाथ नारायणन को 12 लाख रुपये) को 92 लाख रुपये का नकद प्रोत्साहन दिया है, जो 2020 एफआईडीई ऑनलाइन ओलंपियाड में गोल्ड जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे।

एफआईडीई ऑनलाइन ओलंपियाड (आनंद, प्रज्ञानानंद, बी. अधिबान, वैशाली, बी. सविता श्री) के 2021 संस्करण में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे शतरंज खिलाड़ियों को प्रत्येक को 10 लाख रुपये का चेक दिया गया। पुरुष टीम के कोच नारायणन को 4.5 लाख रुपये महिला टीम के कोच बी श्याम सुंदर को 3 लाख रुपये मिले।

इसके अलावा, 2019 में कजाकिस्तान में आयोजित विश्व टीम चैम्पियनशिप में पहले बोर्ड के लिए व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीतने के लिए अधिबान को 20 लाख रुपये का नकद पुरस्कार मिला।

स्टालिन ने विभिन्न खिताब (ग्रैंडमास्टर)खिताब पी.इनियान, महिला महाप्रबंधक श्रीजा शेषाद्रि, वी.वर्षिनी, पीवी नंदीधा- 5 लाख रुपये प्रत्येक इंटरनेशनल मास्टर्स (आईएम) वी.एस. रथिनवेल, एम. प्रणेश, डब्ल्यूआईएम सविता श्री (सभी को) 3 लाख रुपये मिले।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Share.

Comments are closed.