उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों के खिलाफ हिंसाकी तरह हरियाणा के अंबाला जिले के नारायणगढ़ में भी ऐसी ही घटना सामने आई है। कुरुक्षेत्र से बीजेपी सांसद नायब सिंह सैनी के काफिले की गाड़ी ने काले झंडे दिखा रहे एक किसान भवनप्रीत को टक्कर मार दी और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

इसी दौरान मनोहर लाल खट्टर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमे साफ सुना जा सकता है
भाजपा समर्थक लोगों को आंदोलनकारी किसानों पर लट्ठों से हमला करने, जेल जाने और वहाँ से नेता बनकर निकलने का आपका ये गुरूमंत्र दिया जा रहा है । संविधान की शपथ लेकर खुले कार्यक्रम में अराजकता फैलाने का ये आह्वान देशद्रोह है।

लखमीपुर खीरी में हिंसा से पहले भाजपा मंत्री ने भी दिया था भड़काऊ बयान जिसके बाद हुयी थी हिंसा

इससे पहले लखीमपुर खीरी में हुए घटना से कुछ दिन पहले सांसद अजय मिश्र टेनी का वीडियो सामने आया था जिसमे उन्होंने चेतवानी दी थी।

सुधर जाओ…नहीं तो 2 मिनट का वक्त लगेगा। जो कुछ लोग अंधेरे में प्रदर्शन कर रहे हैं, वे मुझसे मदद मांगा करते थे। ‘मैं केवल मंत्री नहीं हूं, सांसद, विधायक भर नहीं हूं, जो विधायक और सांसद बनने से पहले मेरे विषय में जानते होंगे उनको यह भी मालूम होगा कि मैं किसी चुनौती से भागता नहीं हूं।’

मिश्रा ने चेतावनी भरे लहजे में कहा, ‘जिस दिन मैंने उस चुनौती को स्वीकार करके काम कर लिया उस दिन पलिया नहीं, लखीमपुर तक छोड़ना पड़ जाएगा, यह याद रहे।’

Share.

Comments are closed.