सुकन्या योजना का लाभ दिलाने का झांसा देकर गोंडा में रहने वाला राजकुमार एक किसान को उसकी छह बेटियों के साथ लखनऊ लेकर आया।

यहां से कागजी काम पूरा कराने के बाद राजकुमार ने किसान को धोखे में रखकर घर जाने को कहा और उसकी बेटी को होटल में ले गया। जहां बंंधक बनाकर दुष्कर्म किया। वजीरगंज पुलिस ने राजकुमार और उसके साथी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

इंस्पेक्टर वजीरगंज धनंजय पांडेय ने बताया कि गोंडा निवासी राजकुमार मिश्रा ने ग्रामीण को सुकन्या योजना का लाभ दिलाने का झांसा दिया। ग्रामीण की मुलाकात साथी राजू सि‍ंह से कराई। इसके बाद किसान को चालक मेराज के साथ छह बच्चियों समेत किसान को लखनऊ लेकर आया।

यहां सिविल कोर्ट के पास सबको रोका और उन्हें कागजी जरूरतें पूरी करने का झांसा देकर दो घंटे तक कार में रोके रखा। शाम को जब सब लोग चलने लगे तो किसान की 11 वर्षीय बेटी को अपने साथ रोका।

किसान से राजकुमार ने कहा कि वह अन्य बच्चियों के साथ शाम को भेज दिया। 11 वर्षीय किशोरी को रोक लिया और कहा कि कुछ कागज तैयार कराने हैं। इसके बाद मोबाइल स्विच आफ कर दिया।

देर रात तक बेटी के न आने पर किसान ने परेशान होकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने राजकुमार और उसके साथी के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने पड़ताल शुरू कि तो आखिरी लोकेशन अमीनाबाद की मिली।

लोकेशन के आधार पर पुलिस पहुंची तो किशोरी को एक होटल से बरामद कर लिया। वहीं, राजकुमार मौके से भाग निकला। बच्ची ने राजकुमार के द्वारा बंधक बनाकर दुष्कर्म करने की बात कही। इसके बाद पुलिस ने राजकुमार के खिलाफ दुष्कर्म की धारा बढ़ा दी।

Share.

Comments are closed.