मोतिहारी के शिकारगंज थाना इलाके के गोढ़िया में सिकरहना नदी में नाव पलट गई। इसके नाव में सवार 22 लोग नदी में डूब गए। नाव पलटने की खबर फैलते ही आसपास के इलाकों के ग्रामीण मौक पर पहुंच गए।

पुलिस-प्रशासन को भी सूचना दी गई। ग्रामीणों ने नदी में डूबे लोगों की तलाश शुरू कर दी। अभी तक नदी से सिर्फ एक शव के बरामद होने की खबर ह। वहीं 5 अन्य लोगों को पानी से निकालकर इलाज के लिए पास के अस्पताल में भेजा गया है।

जानकारी के मुताबिक, एक छोटे से नाव पर सवार होकर लोग मवेशियों के लिए घास काटने जा रहे थे, इसी दौरान नाव पलट गई। सिकरहना (बूढ़ी गंडक) नदी में यह भीषण हादसा हुआ।

बताया जा रहा है कि नाव पर सवार 22 लोगों में अधिकांश महिलाएं शामिल हैं. महिलाएं बच्चों को साथ लेकर जा रही थीं. जिन पांच लोगों को निकाला गया, उन्हें चिरैया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है. डॉक्टरों ने उनकी स्थिति को देखते हुए मोतिहारी रेफर कर दिया है।

नाव पर सवार सभी लोग गोढिया हराज गांव के बताए जाते हैं, जो प्रतिदिन नाव से नदी पार कर मवेशियों के लिए घास लाने जाते थे. प्रतिदिन की तरह आज भी छोटे नाव पर सवार होकर घास काटने जा रहे थे कि हादसा हो गया।

सिकहराना नदी में नाव पलटने की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर की गांवों के सैकड़ों लोग जुट गए. प्रशासन के अमले के पहुंचने से पहले ही ग्रामीणों ने अपने स्तर पर नदी में डूबे लोगों को निकालने का काम शुरू कर दिया. जिन लोगों को तैरना आता था, सभी नदी में कूद पड़े और डूबे हुए लोगों की तलाश शुरू कर दी ,

Share.

Comments are closed.