यूपी के प्रतापगढ़ में बीजेपी सांसद संगम लाल गुप्ता और उनके समर्थकों के साथ कथित मारपीट की घटना हुई। आरोप है कि कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी और कार्यकर्ताओं ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा।

इस दौरान सांसद की गाड़ी में भी तोड़फोड़ की गई। प्रतापगढ़ के सांगीपुर विकास खंड में आयोजित आरोग्य मेले में बीजेपी सांसद के पहुंचने पर दोनों पक्षों के बीच हंगामा हुआ। दोनों तरफ से आधा दर्जन कार्यकर्ता और पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।

कार्यक्रम में आए लोगों ने किसी तरह भागकर जान बताई। संगम लाल गुप्ता का कहना है कि कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी और कुछ कांग्रेस समर्थकों ने उनपर हमला किया। डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने आरोपियों पर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

सांगीपुर विकास खंड में आयोजित आरोग्य मेले में बीजेपी सांसद के पहुंचने पर हंगामा हो गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में कांग्रेस के दिग्गज नेता प्रमोद तिवारी और विधायक आराधना मिश्र मोना पहुंचे थे।

लेकिन दोनों दलों बीजेपी समर्थकों और कांग्रेस समर्थकों के बीच जमकर मारपीट हुई और अफरातफरी मच गई। आरोप है कि कांग्रेसियों की संख्या अधिक होने के कारण भाजपाइयों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया।

अपने ही सांसद-विधायकों को संरक्षण नहीं दे पा रही बीजेपी- अखिलेश

पुलिस के पैरों में घुसकर बचते दिखे सांसद


बीजेपी सांसद पर हुए हमले पर अखिलेश ने सत्तारूढ़ पार्टी पर निशाना साधा। अखिलेश ने ट्वीट किया, ‘बीजेपी सरकार में जिस तरह सरेआम हिंसा को प्रोत्साहन-संरक्षण दिया गया, उसका खामियाजा आज उसके ही सांसदों-विधायकों को भुगतना पड़ रहा है।

ये अपने जनप्रतिनिधियों तक को संरक्षण नहीं दे पा रही है। उप्र बीजेपी सरकार में कानून-व्यवस्था फरार है। जनआक्रोश का हिंसक होना अच्छा नहीं होता।’

कार्यक्रम में कैसे शुरू हुआ विवाद?
प्रतापगढ़ के सांगीपुर ब्लॉक में गरीब कल्याण मेले का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में पूर्व राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी और उनकी बेटी आराधना मिश्रा ‘मोना’ को 2 बजे से मुख्य अतिथि बनाया गया था।

इसके बाद तीन बजे से बीजेपी सांसद संगम लाल गुप्ता को मुख्य अतिथि बनाया गया था। जैसे ही बीजेपी सांसद अपने समर्थकों के साथ वहां पहुंचे तो बीजेपी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। प्रतिक्रिया में कांग्रेसियों ने भी नारे लगाए।

दोनों के समर्थकों के बीच जमकर नारेबाजी हुई और देखते ही देखते बवाल शुरू हो गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आरोप है कि बीजेपी सांसद के साथ आए कार्यकर्ताओं ने माइक छीनकर तोड़ दिया जिससे कांग्रेसी भड़क गए।

Share.

Comments are closed.