बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के लॉर्ड बुद्धा छात्रावास के छात्रों की अराजकता के लगातार मामले सामने आ रहे हैं।

यहां के छात्रों द्वारा पहले भी कई बार अराजकता के कारनामों को अंजाम दिया जा चुका है, लेकिन इसके बाद भी विश्वविद्यालय प्रशासन ने अब तक इन छात्रों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। लॉर्ड बुद्धा छात्रावास के छात्रों की गुंडागर्दी का नया नमूना सामने आया है।

यहां के छात्रों द्वारा मैस संचालक से न केवल अभद्रता की गई, बल्कि मारपीट पर भी उतारू हो गए। मैस मैनेजर भूपेंद्र सिंह द्वारा विश्वविद्यालय प्रशासन को लिखे गए पत्र के अनुसार छात्रों से जब मैस का शुल्क मांगा गया तो उन्होंने शुल्क जमा करने से इंकार कर दिया।

इतना ही नहीं, छात्रों ने उसके साथ अभद्रता की तथा विरोध करने पर हमलावर हो गए। किसी तरह से मैस मैनेजर छात्रों के चंगुल से छूटकर भागा।

बताते चलें कि इसके पहले भी लॉर्ड बुद्धा छात्रावास के छात्रों द्वारा अराजकता की कई घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है। इस छात्रावास के पास बने होटल शीला श्री पर भी छात्रों द्वारा पत्थरबाजी की गई थी, जिसमें होटल के शीशे आदि टूट गये थे।

इसके अलावा छात्रों द्वारा मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों से भी अभद्रता की जा चुकी है। पूर्व में इस मामले को लेकर जमकर हंगामा हुआ था। मेस मैनेजर से अभद्रता करने के बाद छात्रों ने आधी रात के बाद तक विश्वविद्यालय के कुलपति कार्यालय के बाहर हंगामा काटा।

इस छात्रावास में पहले भी जुआ आदि खेलने के आरोप लग चुके हैं, लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन लॉर्ड बुद्धा छात्रावास के छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करने में असहाय साबित हुआ है। यही कारण है कि इस छात्रावास के छात्रों की अराजकता लगातार बढ़ती जा रही है। इस प्रकरण के मामले में एसएसपी से भी शिकायत की गई है।

Share.

Comments are closed.