अजय कुमार लल्लू का कहना है कि सीएम योगी हर तीसरे दिन गोरखपुर का दौरा करते हैं और हर तीसरे दिन एक हत्या होती है। हत्यारे सीएम को सलामी देने के लिए हत्याएं करते हैं।

लल्लू सवाल करने लगे कि आखिर यह कौन सी कानून व्यवस्था है? अजय कुमार लल्लू ने एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान यह बात कही।

वहीं टीवी चैनल के कार्यक्रम में बातचीत के दौरान जब सीएम योगी से कहा गया कि अखिलेश कह रहे हैं कि ‘‘काम हमने किया और वह (योगी) तो सिर्फ फीता काट रहे हैं, तो मुख्यमंत्री ने पलटवार करते हुए कहा कि 2017 में ये जो जोड़ी (राहुल गांधी और अखिलेश यादव ने विधानसभा चुनाव में गठबंधन किया था) आई थी, ‘‘इन दोनों की प्रवृत्ति ही उत्तर प्रदेश को अपमानित करने की है’’।

उन्होंने कहा कि आम जनता में कोई भय नहीं है, क्योंकि चारों तरफ सुरक्षा का माहौल बनाया गया है, लेकिन पेशेवर माफिया के मन में भय होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने इस आरोप को खारिज किया कि जनप्रतिनिधियों और नौकरशाही के बीच समन्वय नहीं है।

योगी ने एक महंत की तरह सरकार चलाने के आरोप के जवाब में कहा, ‘‘सरकार धमक और हनक से चलती है। वह दुम दबाकर नहीं चलती सरकार की हनक अपराधियों, समाज विरोधी तत्वों और भ्रष्टाचारियों के लिए होनी चाहिए और मुझे प्रसन्नता है कि साढ़े चार वर्ष में हमने इसमें कोई कोताही नहीं बरती। लोग योगी से डरते नहीं, योगी से आम जनता का आत्मीय संवाद है।

Share.

Comments are closed.