कोलकाता, 21 सितंबर । पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के अन्य इलाकों में मंगलवार सुबह से भी मूसलाधार बारिश का सिलसिला जारी है।

रविवार रात से शुरू हुई भारी बारिश सोमवार को भी दिनभर जारी थी जिसकी वजह से कोलकाता के अधिकतर इलाकों में घुटनों तक पानी जमा हुआ है।

इसके अलावा मंगलवार सुबह से ही बारिश ने हालात को और अधिक बिगाड़ना शुरू कर दिया है। बड़ाबाजार और खिदिरपुर सोमवार को ही जलमग्न हो गया था।

उसके बाद मंगलवार सुबह से भारी बारिश ने यहां हालात को और अधिक विकट बना दिया है। लोगों के घरों-दुकानों में पानी घुस रहा है और बारिश के पानी के साथ गंदगी का अंबार बह कर एक जगह से दूसरी जगह पहुंच रहा है जिसकी वजह से लोग काफी परेशानी में पड़े हुए हैं। मौसम विभाग ने बताया है कि मंगलवार रात को बारिश कम हो सकती है।

हालांकि मौसमी अक्षरेखा भी जस की तस बनी हुई है जिसके कारण बुधवार को भी बारिश के आसार हैं। अलीपुर स्थित मौसम विभाग के क्षेत्रीय मुख्यालय ने बताया है कि राजधानी कोलकाता में सुबह 6:00 बजे तक 84.9 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है जो काफी है। सोमवार को सुबह 8:30 बजे तक 142 मिलीमीटर बारिश हुई थी और मंगलवार को भी सुबह से मूसलाधार बारिश ने इस बात के संकेत दे दिया है कि आज भी लोगों को परेशानियों से राहत मिलने वाली नहीं है। मौसम विभाग ने स्पष्ट कर दिया है कि बारिश ने पिछले 13 सालों का रिकॉर्ड तोड़ा है।

इसके कारण अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री नीचे गिरकर 26.2 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा है। भारी बारिश की वजह से कोलकाता के सेंट्रल एवेन्यू, खिदिरपुर, दमदम, कांकुड़गाछी जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में यातायात को बंद कर दिया गया है। कोलकाता स्टेशन भी पानी में डूब चुका है जिसके कारण ट्रेनों को रद्द करना पड़ा है और एयरपोर्ट के रनवे पर भी पानी भर गया है जिसके कारण कई फ्लाइट्स को कैंसिल कर दिया गया है।

Share.

Comments are closed.