बिहार के समस्तीपुर जिले में करीब आधा दर्जन लोगों ने एक नाबालिग लड़की का अपहरण कर लिया और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

दसवीं कक्षा की पीड़िता शनिवार शाम रोसड़ा कस्बे के एक बैंक से साइकिल पर अपनी सहेली के साथ लौट रही थी, तभी सिंघिया घाट के पास छह-सात गुंडों ने उन्हें रोक लिया और चाकू दिखाकर सुनसान जगह पर ले गए।

गुंडों ने एक-एक करके दुष्कर्म करने से पहले उसके दोस्त, एक नाबालिग लड़के को एक पेड़ से बांध दिया। शाम करीब छह बजे पीड़िता का अपहरण कर लिया गया और रविवार की सुबह 3 बजे तक उसकी बेरहमी से पिटाई की।

आरोपियों ने सामूहिक दुष्कर्म का वीडियो क्लिप भी बनाया और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रसारित कर दिया। रविवार तड़के आरोपी जब पीड़िता को छोड़कर गया तो दोनों नाबालिगों ने विभूतिपुर थाने पहुंचकर आपबीती सुनाई।

सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता का काफी खून बह रहा था और उसे तुरंत रोशरा अनुमंडल अस्पताल ले जाया गया। उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है और वह बयान नहीं दे पा रही है।

विभूतिपुर के एसएचओ राजीव लाल पंडित ने कहा, जैसे ही पीड़ित ने घटना की जानकारी दी, हमने आरोपी व्यक्तियों के घरों पर छापा मारने के लिए एक टीम का गठन किया। कुछ आरोपियों की अब पहचान हो गई है।

हमने चार लोगों को हिरासत में लिया है और मामला महिला पुलिस थाने में स्थानांतरित कर दिया गया है। रोसड़ा के एसडीपीओ एस.अख्तर ने कहा, पीड़िता ने अभी तक कोई बयान नहीं दिया है।

हमने इस संबंध में 4 लोगों को हिरासत में लिया है। पीड़िता की वर्तमान स्थिति से उबरने और आरोपी की पहचान करने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

Share.

Comments are closed.