कानपुर में जब से कमिश्नरी लागू हुई है, लगता है तब से पुलिस महिलाओं और बच्चियों की रक्षक की जगह खुद ही भक्षक बन गई है। पिछले तीन महीनों में महिलाओं-बच्चियों से रेप के चार मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें पुलिसकर्मियों पर रेप और छेड़छाड़ के आरोप लगे हैं।

ताजा मामला कानपुर के चकेरी थाना क्षेत्र से आया है। यहां ट्रैफिक विभाग के दरोगा पर रिश्तेदार की एक युवती से कई बार रेप कर वीडियो बनाने का आरोप लगा है। पुलिसकर्मी के यौन शोषण से तंग आकर युवती ने गंगा में कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की है। मामले सामने के बाद पुलिस ने आरोपी दरोगा के लाफ केस दर्ज कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, कानपुर में ट्रैफिक विभाग के टीएसआई पर नशीला पदार्थ सुंघाकर युवती का रेप फिर उसका वीडियो बनाकर लगातार यौन शोषण करने का आरोप लगा है। जब युवती ने इसका विरोध किया तो उससे मारपीट की और वीडियो वायरल करने की धमकी दी।

इस बात से तंग आकर युवती ने 12 सितंबर को गंगा में छलांग लगाकर सुसाइड की कोशिश की। पुलिस ने युवती की शिकायत पर दरोगा के खिलाफ
फआईआर दर्ज कर ली है। दरोगा के साथ उसके बेटे के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है। बेटे पर आरोप है कि वह भी अपने पिता के साथ महिला से मारपीट करता था।

डीसीपी ईस्ट प्रमोद कुमार ने बताया कि पीड़िता ने जाजमऊ गंगा पुल पहुंचकर गंगा में छलांग लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। थाना चकेरी में महिला की तहरीर पर टीएसआई और उसके पुत्र पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है पुलिस ने महिला को मेडीकल जांच के लिये भेजा है और महिला द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच शुरू कर दी है।

Share.

Comments are closed.