हरिद्वार। एक तरफ कोरोना महामारी के बीच लोगो को अन्न के लाले पड़े है वंही आधार कार्ड के अपडेट न होने के कारण हरिद्वार जनपद के 40 हजार लोगों के नाम राशन कार्ड से हटा दिए गए हैं। ऐसे में अब इन लोगों को राशन मिलना भी बंद हो गया है।

वहीं पूर्ति विभाग ने राशन कार्ड में नाम जोड़ने और अपडेट करने का काम शुरू तो किया है। लेकिन भीड़ बढ़ने के कारण लग रही लंबी लाइनें लोगों को परेशान कर रही हैं।

बताते चलें कि राशन कार्ड में लोगों के आधार कार्ड अपडेट नहीं थे। जबकि कुछ लोगों ने अब तक राशन कार्ड ऑनलाइन के लिए भी दस्तावेज जमा नहीं किए थे। जिसके बाद जिलेभर के बाद 40 हजार लोगों के नाम राशन कार्ड से काट दिए गए हैं। जिले की बात करें तो पूरे जनपद में ढ़ाई लाख राशन कार्ड धारक 11 लाख यूनिट हैं।

इस तरह इन दस्तावेजों के साथ जुड़वाएं नाम

राशन कार्ड में आधार को अपडेट कराने और सदस्यों के नाम जुड़वाने के लिए हरिद्वार तहसील परिसर में बने खाद्य पूर्ति कार्यालय में परिवार की मुखिया का आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, बैंक खाते की पास बुक और अगर गैस कनेक्शन है तो उसकी भी प्रतिलिपि लेकर जाना पड़ेगा।

जबकि नाम जुड़ने वाले अन्य सदस्यों के भी आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, बच्चे का अगर वोटर आईडी नहीं है तो विकल्प के रूप में हाईस्कूल की मार्कशीट या जन्म प्रमाण पत्र लेकर जाना है।

कार्यालय में नंबर आने पर इन दस्तावेजों के साथ आवेदन कर दें। नाम जुड़ने की प्रक्रिया पूरी होने के बाद अगले महीने से आपको राशन मिलना शुरू हो जाएगी।

Share.

Comments are closed.