नगरीय निदेशालय से आवंटित 100 इलेक्ट्रिक एसी सिटी बसाें में से 25 की पहली खेप 16 सितंबर को आ रही है। दुबग्गा डिपो ने भी बसों की चार्जिंग के इंतजाम पूरे कर लिए हैं।

ये बसें किस रूट पर जनता को सफर मुहैया कराएंगी, उसका प्रस्ताव पहले ही तैयार हो चुका है। दुबग्गा डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक मनोज शर्मा ने बताया कि पहली खेप की जो सिटी बसें आएंगी।

उनको शहर और ग्रामीण क्षेत्र से सीधा कनेक्शन रखने वाले पॉइंट से संचालित किया जाएगा। इससे लखनऊ सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज कंपनी की आय बढ़ेगी और गांव से लोगों का शहर आना सुगम होगा।

इसके लिए दस रूट तय हो चुके हैं। साथ ही, इन बसों की कमान जिन चालकों को सौंपी जानी है, उन्हें प्रशिक्षित करने की तैयारी चल रही है।
डिपो में एक साथ चार्ज होंगी 30 सिटी बसें

नई सिटी बसों के 24 चार्जिंग पॉइंट भी तैयार हो गए हैं। इनमें से 15 पॉइंट डिपो में और 9 पॉइंट रूट के शामिल हैं। एक चार्जिंग पॉइंट से एक साथ दो सिटी बसेें चार्ज होंगी।

इससे डिपो की वर्कशॉप में एक साथ 30 बसें चार्ज होती रहेंगी। सिटी बस की पहली खेप आने के बाद दूसरी खेप भी एक माह के अंतराल पर आ जाएगी।

अब वाहनों की कुंडली एक क्लिक पर
परिवहन विभाग ने वाहनों के दस्तावेजों को डिजिटल पोर्टल पर अपलोड करने के पूर्व में बने प्रस्ताव को आगे बढ़ाया है।

डिजिटल पोर्टल सिस्टम के लागू होने पर आरटीओ में एक क्लिक पर वाहनों की कुंडली सामने होगी। लखनऊ परिक्षेत्र के डिप्टी कमिश्नर निर्मल प्रसाद कहते हैं कि शासन ने परिवहन विभाग से डिजिटाइजेशन के बारे में फाइल मंगाई है।

Share.

Comments are closed.