जनज्वार। लगातार बढ़ी गैस की कीमतों की मार मात्र जिंदा व्यक्तियों पर ही नही मुर्दों पर भी पढ़ती दिख रही है । मुंबई से सटे भायंदर वेस्ट के भोला नगर परिसर में मौजूद श्मसान भूमि से एक दिल को झकझोरने वाली खबर सामने आई है।

दरअसल यहां श्मशान भूमि में गैस खत्म होने के बाद तीन दिन तक अधजला शव (Half Burnt Body) भट्टी में पड़ा रहा। खबरों के मुताबिक बीते शनिवार की को 62 वर्षीय मोहन वसंत भाई पटेल का शव दाह संस्कार के लिए भोला नगर की श्मशान भूमि में लाया गया था।

शव का अंतिम संस्कार करने के लिए उसे गैस से चलने वाली भट्टी में डाला गया। तभी कुछ समय बाद गैस सिलेंडर खत्म हो गया। इपर शव अधजली हालत में भट्टी के अंदर ही रह गया।

इसके बाद शव को जलाने वालों को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों से गैस सिलेंडर उपलब्ध कराने की मांग की।

मगर सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों की उदासीनता की वजह से गैस सिलेंडर मिलने में समय लग गया और शव तीन दिनों तक भट्टी के अंदर अधजली हालत में ही पड़ा रहा।

Share.

Comments are closed.