भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रबुद्धजन सम्मलेन कर पिछड़ों को गुलाम बनाकर गिरवी रखने की तैयारी कर रही है। उक्त बातें सर्किट हॉउस पहुंचे सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कही। उन्होंने कहा की भाजपा ये सब सिर्फ पिछड़ा वर्ग को गुलाम बनाने के लिए कर रही है।

ओमप्रकाश राजभर ने आरोप लगाते हुए कहा कि इनके सम्मेलनों में पैसे देकर भीड़ जुटाई जाती है।

सबको सिर्फ प्रबुद्धों की चिंता, गरीबों की नहीं-

मायावती द्वारा प्रबुद्धजन सम्मेलन किये जाने के सवाल पर उन्होंने कहा की मायावती जी प्रबुद्ध जन सम्मलेन कर रही हैं। वही भाजपा, सपा और कांग्रेस कर रही है। सबको प्रबुद्ध जन ही दिख रहे हैं गरीब तो किसी को दिख ही नहीं रहा है। बंजारा, बहेलिया, आरक, अर्कवंशी, नाई, लोहार, गोड़, विश्वकर्मा, बिन्द, प्रजापति, पाल, कश्यप, निषाद, पासवान, धोबी के विषय में कोई सम्मलेन नहीं, कोई चिंता नहीं है किसी को। सबको सिर्फ प्रबुद्ध ही दिख रहा है गरीब कब दिखेगा।

उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि सम्मेलनों में लाकर उन्हें पूड़ी, सब्ज़ी, लड्डू का पैकेट दिया जाता है और फ्री में गाड़ी दी जाती है लाने-ले जाने के लिए। सम्मेलनों में लाकर कर भाजपा के नेता इन्हे अपनी लोरी सुनाते हैं।

भाजपा नेता कर रहे पिछड़ों को गुमराह-

वाराणसी पहुंचे ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि 69 हज़ार शिक्षक भर्ती में आज भी बच्चे धरना दे रहे हैं। लाठी खा रहे हैं और अपने हक की मांग कर रहे हैं, पर भाजपा के किसी नेता को यह नहीं दिखाई देता। 27 प्रतिशत आरक्षण संविधान में जो व्यवस्था है वो दिलाने के लिए पिछड़े नेता जो बीजेपी में हैं उनके पास फुर्सत नहीं है, लेकिन वोट दिलाने के लिए उनके पास फुर्सत है। पिछड़ों को गुमराह करने के लिए फुर्सत है।

महंगाई पर चिंतन के लिए भाजपा नेताओं के पास वक़्त नहीं-

ओमप्रकाश राजभर ने आगे कहा कि महंगाई से पूरा देश त्राहिमाम कर रहा है। महंगाई कैसे कम हो, इसपर चिंतन करने के लिए भारतीय जनता पार्टी के पिछड़े समाज के नेता हों चाहे दलित समाज के नेता हों या सामान्य वर्ग के नेता हों उनके पास समय नहीं है। इन नेताओं को महंगाई से जनता को कैसे निजात दिलाएं इसपर चिंतन करने का वक़्त नहीं है। प्रदेश में अमन चैन कैसे हो इसकी चिंता नहीं करते ये लोग

Share.

Comments are closed.