जिला समाज कल्‍याण अधिकारी नदीम सिद्दीकी को महिला कर्मचारी के साथ छेड़छाड़ और अभद्रता करने के आरोप में निलंबित कर दिया गय। समाज कल्‍याण विभाग के प्रमुख सचिव के रविंद्र नायक ने शुक्रवार को आदेश जारी किया।

दरअसल, गाजियाबाद जिला समाज कल्याण विभाग में एक महिला कर्मचारी ने नदीम सिद्दीकी पर गंभीर आरोप लगाए थे।

महिला कर्मचारी का आरोप था कि जिला समाज कल्‍याण अधिकारी नदीम सिद्दीकी ने उसके साथ अभद्रता की और वह डबल मीनिंग बात करता था। इतना ही नहीं महिला ने दफ्तर में काफी हंगामा भी किया था।

सचिव द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि नदीम सिद्दीकी को समाज कल्याण विभाग में तैनात पर्यवेक्षक महिला कर्मचारी से डबल मीनिंग शब्दों का प्रयोग करते हुए अनावश्यक बाते करने, रात में फोन कर परेशान करने, मानसिक रूप से प्रताड़ित करने, महिलाओं के प्रति दुर्व्यहार करने और उनके सम्मान को ठेस पहुंचाने जैसे गंभीर अनुशासनहीनता करने के आरोप में निलंबित किया जाता है।

आदेश के मुताबिक, सिद्दीकी को निलंबित करते हुए उन्हें निलंबन की अवधि में निदेशालय, समाज कल्याण लखनऊ से संबद्ध कर दिया है। उनके खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई भी की जाएगी।

Share.

Comments are closed.