बेसिक शिक्षा परिषद के कक्षा 1 से 5 तक के स्कूलों का संचालन शुरू होने के बाद अब आंगनबाड़ी केंद्र भी 16 सितंबर से खुल सकते है। बेसिक शिक्षा विभाग ने 15 सितंबर से आंगनबाड़ी केंद्रों का प्री-प्राइमरी स्कूल के रूप में संचालन कराने की तैयारी की है।

प्रदेश में कोरोना की पहली लहर की आहट के साथ ही मार्च 2017 के दूसरे सप्ताह से करीब 1.89 लाख  आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन बंद कर दिया गया था।

कोरोना की पहली लहर के दौरान ही उसी दौरान नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 जारी की गई। शिक्षा नीति के तहत आंगनबाड़ी केंद्रों को प्री-प्राइमरी स्कूलों के रूप में संचालित करने का प्रावधान किया है।

बेसिक शिक्षा विभाग ने बीते वर्ष से ही आंगनबाड़ी केंद्रों को प्री-प्राइमरी स्कूल के रूप में संचालित करने की तैयारी शुरू कर दी थी। 

आंगनबाड़ी केंद्रों में अवस्थापना सुविधाएं मुहैया कराने के साथ वहां के लिए पाठ्यक्रम भी निर्धारित किया गया। प्रदेश सरकार की ओर से कोरोना संक्रमण के चलते आंगनबाड़ी  केंद्रों का संचालन भी 15 सितंबर तक बंद किया गया था।

बेसिक शिक्षा विभाग ने 16 सितंबर से आंगनबाड़ी केंद्रों का कोविड प्रोटोकॉल के तहत संचालन शुरू करने का संकेत मिलने के बाद प्री-प्राइमरी स्कूलों के संचालन की तैयारी शुरू की है। 

Share.

Comments are closed.