नई दिल्ली: आखिरकार Ford Motor ने भी भारत में अपना बिजनेस बंद करने का फैसला कर लिया है. Ford Motor अब भारत में कारों का निर्माण नहीं करेगी और अपनी मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट्स को बंद करेगी. Ford Motor के इस फैसले से कंपनी को 2 बिलियन डॉलर का नुकसान होने का अनुमान है.

Ford Motor भारत में नहीं बनाएगी कारें

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की खबर के मुताबिक Ford Motor को लंबे समय से भारतीय बाजार से अच्छा मुनाफा नहीं हो रहा था. अमेरिकी दिग्गज कार कंपनी Ford Motor भारत में 25 साल से है, लेकिन अबतक भारतीय कार बाजार में इसका शेयर 2 परसेंट से भी कम है. इतने लंबे समय तक भारतीय बाजार में रहने के बाद भी वो यहां के ग्राहकों का दिल जीतने में नाकाम रही और मुनाफा भी नहीं हुआ.

क्या होगा मौजूदा ग्राहकों का?

Ford ने गुरुवार को जारी एक बयान में कहा कि 10 सालों के दौरान उसे 2 बिलियन डॉलर से ज्यादा का नुकसान हुआ है और उसकी नई गाड़ियों की डिमांड काफी गिर गई है. बयान में Ford India के हेड अनुराग मेहरोत्रा की ओर से कहा गया है कि हमारी कोशिशों की बावजूद हम लंबी अवधि में मुनाफे का रास्ता नहीं हासिल कर सके. हालांकि Ford भारत में अपनी कुछ कारें इंपोर्ट के जरिए बेचना जारी रखेगी. कंपनी अपने मौजूदा ग्राहकों को डीलर्स के जरिए सर्विस देगी.

Share.

Comments are closed.