जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने मंगलवार को कैंप कार्यालय पर राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर मतदेय स्थल व वोटर लिस्ट सिक्वेंस पर चर्चा की।

निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों व कोविड के दृष्टिगत मतदेय स्थलों में संशोधन के लिए विभिन्न राजनैतिक दलों और अन्य स्तरों से प्राप्त कुल 25 शिकायतें व सुझाव पर आरओ ने गहनता से स्थलीय जांच किया।

जांच में 12 सुझाव मान्य किए गए। वर्तमान में कुल 2920 बूथे हैं। 441 नए बूथ प्रस्तावित के साथ अब कुल 3361 मतदेय स्थल प्रस्तावित किए गए, जिसमें पिंडरा में 432, अजगरा में 434, शिवपुर में 401, रोहनिया में 461, वाराणसी उत्तरी में 439, वाराणसी दक्षिणी में 343, वाराणसी कैंट में 451 व सेवापुरी में 400 बूथ प्रस्तावित किए गए हैं।

अधिकांशतः 1100 के मतदाता तक के बूथ हैं व एक मतदान केंद्र पर अधिकांशतः का एक से पांच तक बूथ रखे गए हैं।

जिलाधिकारी ने वोटर लिस्ट को सीक्वेंस में बनाने पर जोर दिया। इसके लिए बीएलओ व बीएलए समन्वय कर क्षेत्र के मकान क्रमवार व एक परिवार के सभी मतदाता के साथ एक साथ कर सिक्वेंस बनाएं। शहर में आम जनों से अपेक्षा की गई है कि अपने घरों पर मकान नंबर प्रदर्शित करें।

जिलाधिकारी ने आमजन से अपेक्षा की है कि बीएलडब्लू तथा बीएचयू के कैंपस व अन्य सरकारी आवासीय कालोनियों से जो अधिकारी-कर्मचारी रिटायर/स्थानांतरित होकर अन्यत्र चले गए हैं और उनके नाम विधानसभा वोटर लिस्ट में दर्ज हैं, ऐसे मतदाता का नाम वोटर लिस्ट से सत्यापन कराकर नाम काटे जाने की कार्रवाई की जा रही है। अतः ऐसे मतदाता अपना नाम वर्तमान निवास के पते पर वोटर लिस्ट में नाम सम्मिलित करा ले।

बैठक में भाजपा महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय, अशोक पटेल, संजय सोनकर, बीएसपी शिव कुमार सोनकर, सपा से जितेंद्र यादव, आर के चौधरी, सुनील यादव, आदित्य यादव, इकबाल अहमद, रालोद से हवलदार यादव, सीपीआई (ए) से जनमेजय सिंह सहित अपर जिलाधिकारी

Share.

Comments are closed.