सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा की कथनी और करनी में अंतर है। किसानों की आय दोगुनी करने का दावा किया, जबकि हकीकत यह है कि किसान कर्ज के बोझ तले दब गए हैं। महंगाई की मार ने किसानों को तबाह कर दिया है।

अखिलेश ने कहा कि सरकार किसानों के साथ हर स्तर पर जुल्म कर रही है। एक तरफ डीजल, खाद के दाम बढ़ा दिसे तो दूसरी तरफ उनकी उपज का मूल्य नहीं मिल रहा है।

आठ महीने में घरेलू रसोई गैस की कीमत में 190 रुपये की बढ़त हो गई है। नदी सफाई कराने का दावा किया जा रहा है, जबकि गोमती दुर्दशा की शिकार है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के गड्ढामुक्त होने का दावा करने वाले उपमुख्यमंत्री को प्रदेश की सड़कों के गड्ढे नहीं दिख रहे हैं। गो संरक्षण के नाम पर सियासत करने वाले मुख्यमंत्री के राज में गोवंश की बदहाली जारी है। 

कहीं हुआ भंडारा तो कहीं गरीबों को बांटे फल
सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व एमएलसी एसआरएस यादव की पहली पुण्यतिथि पर प्रदेश कार्यालय में श्रदांजलि दी गई। इस दौरान उनके कृतित्व एवं व्यक्तित्व को याद किया गया।

इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, डॉ. राजपाल कश्यप, अरविंद सिंह, रामशंकर यादव, विकास यादव, बार एसोसिएशन महामंत्री जितेंद्र सिंह यादव आदि मौजूद रहे। सपा कार्यालय के बाहर समाजवादी रसोई का संचालन किया गया। 

Share.

Comments are closed.