मध्य प्रदेश में आदिवासियों के साथ अत्याचार के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। प्रदेश के खरगोन में पुलिस कस्टडी में एक आदिवासी युवक की मौत के बाद अब बालाघाट में आदिवासी छात्रा की हत्या की जानकारी सामने आई है। शुरुआती रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला एकतरफा प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ है।

बताया जा रहा है कि सोमवार को 10वीं कक्षा की छात्रा जब स्कूल से घर लौट रही थी तब आरोपी ने उसे धारदार कुल्हाड़ी से मार डाला। घटना कोडोबर्रा गांव और किनही टाउन के बीच की है। छात्रा साइकिल से गांव से बाहर पढ़ने के लिए जाया करती थी।

रास्ते में आनेजाने वाले लोगों ने खून से लथपथ मृत बच्ची को देखा तब उन्होंने मृतक के घरवालों को इसकी जानकारी दी। बालाघाट एसपी अभिषेक तिवारी ने बताया कि पुलिस इस घटना में एफआईआर दर्ज कर हत्यारे को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है।

तिवारी के मुताबिक आरोपी छात्रा के गांव का ही रहने वाला है। फिलहाल आरोपी पुलिस की पहुंच से बाहर है। वहीं मामला सामने आने के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस ने सीएम शिवराज से पूछा है कि आपकी पुलिस क्या कर रही है। कांग्रेस ने इसे जंगलराज करार दिया है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी इस घटना की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है और पीड़ित परिवार को हरसंभव मदद देने की अपील की है।

Share.

Comments are closed.