गोदी मीडिया का दर्जा प्राप्त रिपब्लिक टीवी और हिंदी न्यूज चैनल ज़ी हिंदुस्तान (Zee Hindustan) ने फिर गड़बड़ किया है। इस बार वीडियो गेम अरमा-3 के फुटेज को पंजशीर घाटी, अफगानिस्तान और तालिबान में प्रतिरोध सेनानियों के बीच चल रहे सैन्य संघर्ष के दृश्यों का बताकर एक्सक्लूसिव चला दिया। साथ ही दावा किया गया था कि, इसमें पाकिस्तानी वायु सेना को तालिबान विरोधी लड़ाकों पर हमला करते हुए दिखाया गया है।

रिपब्लिक भारत ने यह फुटेज ‘हस्ती टीवी’ का बताकर प्रसारित किया है। जिसमें बताया गया है कि पंजशीर घाटी में पाकिस्तानी ड्रोन द्वारा प्रतिरोध सेनानियों के खिलाफ हवाई हमले का है।

बता दें कि, 15 अगस्त को काबुल के पतन के बाद, कई तालिबान विरोधी लड़ाके और अफगान सेना के अवशेष अहमद मसूद के नेतृत्व में पंजशीर घाटी में जमा हुए और तालिबान के खिलाफ लड़ाई में प्रांत में रुके हुए हैं।

रिपब्लिक टीवी ने वीडियो को कैप्शन के साथ पोस्ट किया, ‘पाकिस्तानी सेना पंजशीर में नॉर्दन एलायंस के खिलाफ तालिबान का समर्थन कर रही है।’ प्रसारण के दौरान, एंकर द्वारा इस दावे को दोहराते हुए सुना जा सकता है कि यह फुटेज पंजशीर में हवाई हमले का है। साथ ही यह पाकिस्तानी हवाई हमले का बताया गया है।

जबकि वायरल वीडियो, वीडियो गेम अरमा -3 का है और पंजशीर में प्रतिरोध सेनानियों और तालिबान के बीच चल रहे सैन्य संघर्ष का नहीं है। कई कीवर्ड सर्च करने पर, पाया गया कि वायरल वीडियो अरमा -3 के एक लंबे वीडियो से लिया गया है जिसे जनवरी 2021 में यूट्यूब पर अपलोड किया गया था, जिसमें कहा गया था कि यह वीडियो गेम का है।

Share.

Comments are closed.