VDA कार्यालय सभागार में सोमवार को नक्शा निस्तारण कैम्प लगाया गया। इस कैम्प में सिकरौल, शिवपुर, सारनाथ और नगवा वार्ड के लोगों की नक़्शे सम्बंधित समस्याओं का निस्तारण किया गया।

इस दौरान 83 नोटिस प्रकरणों की सुनवाई की गयी तथा 32 एनओसी विभिन्न अनुभागों द्वारा जारी की गयी। कुल 5 नए शमन मानचित्र आवेदन जमा हुये तथा 03 पूर्व में जमा नक़्शे के आवेदनों को स्वीकृत किया गया।

वाराणसी विकास प्राधिकरण (VDA ) कार्यालय सभागार में जन-सामान्य को शमन मानचित्र जमा करने एवं स्वीकृत करवाने हेतु तथा भवनों पर उत्तर प्रदेश नगर नियोजन एवं विकास अधिनिमय-1973 की विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत नोटिस सुनवाई हेतु सामान्यतः प्राधिकरण कार्यालय का भ्रमण करना पड़ता है।

इस प्रक्रिया को सरल बनाने तथा त्वरित एवं प्रभावी निस्तारण सुनिश्चित करने के उद्देश्य से शमन मानचित्रों के समयबद्ध निस्तारण एवं भवनों पर उत्तर प्रदेश नगर नियोजन एवं विकास अधिनियम-1973 की विभिन्न धाराओं नोटिस की सुनवाई हेतु प्रत्येक सप्ताह मंगलवार को नक्शा समाधान दिवस तथा अन्य साप्ताहिक दिवसों में नियत दिवस पर प्राधिकरण द्वारा नियत स्थलों पर वार्ड /जोनवार सुनवायी एवं मानचित्र निस्तारण कैम्प लगाया जा रहा है।

इसी क्रम में सोमवार को वाराणसी विकास प्राधिकरण कार्यालय सभागार कक्ष में मानचित्र निस्तारण आयोजित किया गया।

कैम्प में प्रभारी अधिकारी (भवन), वार्डों के जोनल अधिकारी(वार्ड-सिकरौल, शिवपुर, सारनाथ एवं नगवां), सहायक अभियंता (मानचित्र), संबन्धित वार्ड के अवर अभियंता (प्रवर्तन), समस्त अवर अभियंता (मानचित्र), समस्त वार्ड लिपिक, विन्यास लिपिक, नियोजन अनुभाग, अवाप्ति/सीलिंग अनुभाग, सम्पत्ति, विधि के समस्त संबन्धित कार्मिक सम्पूर्ण कैम्प अवधि में कैम्प स्थल पर उपस्थित रहे।

कैम्प में पूर्व में जमा समस्त शमन मानचित्रों की पत्रावलियों पर संबन्धित अनुभाग को आख्या अंकित करने तथा अवर अभियंता द्वारा गणना इत्यादि कर पत्रावलियों को स्वीकार करने या निर्णय करने के लिए अग्रसारित किया गया ।

इसके अलावा नए शमन मानचित्रों को जमा करने हेतु कैम्प में उपस्थित सम्बन्धित कार्मिक द्वारा तत्काल प्लान फीस इत्यादि की गणना कर पक्ष को अवगत कराया गया तथा पक्ष द्वारा धनराशि जमा करने हेतु बैंक स्क्रौल / पीओएस के माध्यम से तत्काल कैम्प स्थल पर ही धनराशि जमा करायी गयी।

Share.

Comments are closed.