काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के पोस्टमार्टम हॉउस को रेनोवेशन के लिए बीएचयू प्रशासन के आग्रह पर जिला प्रशासन ने शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवपुर के चीर घर में 6 सितम्बर से पोस्टमार्टम शुरू करवाया था।

पोस्टमार्टम हॉउस तक जाने वाले रास्ते पर कीचड़ और पानी की वजह से 6 सितम्बर को पोस्टमार्टम कराने आने वालों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

पोस्टमार्टम कराने के लिए जहां परिजनों को स्वयं गोदी में लेकर शवों को जाना पड़ा तो वहां मौजूद लोगों ने स्ट्रेचर से ले जाने के लिए 1000 रुपये तक की डिमांड की। इस बात की खबर Live VNS ने सोमवार को प्रकाशित किया था।

इस विषय को संज्ञान में लेते हुए जिला प्रशासन ने एक बार फिर 7 सितम्बर से बीएचयू में पोस्टमार्टम शुरू करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया है।

इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर वीबी सिंह ने बताया कि कायाकल्प के अंतर्गत पोस्टमार्टम हाउस बीएचयू का अनुरक्षण किए जाने के संबंध में विभागाध्यक्ष फॉरेंसिक मेडिसिन चिकित्सा विज्ञान संस्थान बीएचयू ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी वाराणसी को अवगत कराया था, जिसको देखते हुए अस्थाई तौर पर आधुनिक चीरघर शिवपुर वाराणसी में पोस्टमार्टम कराए जाने का निर्णय लिया गया था।

डॉक्टर वीबी सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी से हुई वार्ता एवं निर्देश के क्रम में आधुनिक चीरघर शिवपुर के कैंपस में वाटर लॉगिंग होने के कारण पुन: आज 07 सितम्बर से पोस्टमार्टम का कार्य पोस्टमार्टम हाउस बीएचयू में संपन्न किया जाएगा।

Share.

Comments are closed.