असलम खान झांसी
मुसीबत में फंसे बच्चों के लिए डायल करें 1098- बिलाल उल हक

आज दिनांक 7/9/2021 को रेलवे चाइल्डलाइन ने समन्वयक बिलाल उल हक के नेतृत्व में रेलवे स्टेशन झांसी पर बच्चों को संरक्षण देने व उनको सुरक्षित घर तक पहुंचाने के उद्देश्य से जागरूकता अभियान चलाया गया। जिसमें रेलवे स्टेशन झांसी पर उपस्थित यात्रियों को

चाइल्डलाइन 1098 की जानकारी दी व उनसे इस अभियान में सहयोग देने की अपील भी की गई। इस दौरान कई यात्रियों ने चाइल्ड लाइन के विषय में जानकारी मांगी उन्होंने कहा कि कोई भी बच्चा अगर किसी मुसीबत में है तो उसके लिए यह सेवा कैसे काम करती है। इस संबंध में

रेलवे चाइल्ड लाइन टीम सदस्य गौरी शंकर ने बताया कि चाइल्ड लाइन महिला एवं बाल विकास मंत्रालय तथा रेल मंत्रालय की एक ऐसी परियोजना है जो कि जरूरतमंद बच्चों को संरक्षण देने के लिए 24 घंटे तत्पर रहती है। जिसमें 1098 पूरे भारतवर्ष में एकमात्र ऐसा नंबर है जो

बच्चों की मदद के लिए बना है यह भारत के किसी भी कोने या किसी भी स्टेशन से से लगाया जा सकता है यह एक टोल फ्री नंबर है। इसी दौरान टीम सदस्य राखी यादव ने बताया कि इस पर फोन करने वाले व्यक्ति की पहचान को गोपनीय रखा जाता है आपके एकमात्र कॉल से हो

सकता है किसी बच्चे की मदद हो सके। अगर आपको कोई भी ऐसा बच्चा दिखाई दे की जिसको मदद की जरूरत है तो आप तुरंत चाइल्डलाइन सूचना। चाइल्डलाइन बच्चे के पास तुरंत पहुंच कर उसकी मदद करेगा।

इस जागरूकता अभियान में रेलवे चाइल्डलाइन टीम से रेखा,स्वेता,आलोक कुमार, ललित कुमार आदी उपस्थित रहे

Share.

Comments are closed.