यहाँ सुशासन बाबू के राज में बालू माफियाओं के अड्डे पर छापा मारने गई पुलिस टीम पर हमला कर के लूटेरे और बालू माफियाओं ने बता दिया जब तक हम है तब तक सरकार है। थाने से महज 4 सौ गज की दूरी पर बालू माफिया ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया।

पहला मामला छपरा के अवतारनगर के पास से सामने आया है, जहां बालू माफिया ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। इस हमले में गरखा थाना अध्यक्ष अमितेश, उनका ड्राइवर जावेद गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों घायलों को छपरा सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बताया जा रहा है कि देर शाम पुलिस अवतार नगर के आमी गांव के पास छापेमारी करने पहुंची थी, जहां बालू माफिया की ओर से नेशनल हाईवे पर बालू का कारोबार किया जा रहा था।

पुलिस को देख बालू माफिया ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। पुलिसकर्मियों पर डंडे बरसाए। जिसमें थानाध्यक्ष समेत आठ पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। घटना के बाद पुलिस कर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जिनमें से 6 की मरहम पट्टी के बाद छुट्टी कर दी गई। वहीं थाना अध्यक्ष अमितेश, ड्राइवर जावेद को सदर अस्पताल में भर्ती हैं। एसपी ने घटना की पुष्टि करते हुए इस मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

थाने से महज 4सौ गज की दूरी पर 6 लाख रुपये की लूट

वहीं दूसरी घटना छपरा के दरियापुर थाना क्षेत्र के शीतलपुर-परसा मुख्यपथ पर लालू टोला गांव के समीप की है। यहां तीन हथियारबंद अपराधियों ने दिनदहाड़े पेट्रोलपंप कर्मी से छह लाख रुपये लूटे और फरार हो गए।

घटनास्थल थाने से महज 4सौ गज की दूरी पर हुई। घटना के सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार, दरियापुर उच्च विद्यालय के समीप स्थित आदित्य पेट्रोलियम के मैनेजर सुनील कुमार सिंह अपने एक सहयोगी मोनू कुमार के साथ बाइक से पम्प का 6 लाख 34 हजार रुपये बैग में लेकर सेंट्रल बैंक अरविन्दनगर के लिए जा रहे थे।

इसी बीच लालू टोला गांव के समीप एक ही बाइक पर सवार तीन युवकों ने ओवरटेक कर बाइक को रोक लिया और हथियार के बल पर रुपयों से भरा बैग छीनकर फरार हो गए। मैनेजर ने बताया कि तीनों अपराधी मास्क लगाए हुए थे।

वहीं घटना की सूचना मिलते ही पुलिस जांच में जुट गयी है। एसपी संतोष कुमार ने बताया कि पुलिस मामले में छापेमारी कर रही है।

Share.

Comments are closed.