ऋषिकेश-देहरादून के बीच रानीपोखरी में जाखन नदी के ऊपर वैकल्पिक मार्ग बारिश के कारण तेज बहाव में बह गया है। 27 अगस्त को पुल टूटने के बाद लोनिवि की ओर से यहां वैकल्पिक मार्ग शुरू किया गया था। पुल बहने के बाद ऋषिकेश-हरिद्वार हाइवे पर वाहनों का दबाव बढ़ गया है। यहां से घूमकर जाने वालों को ज्यादा दूरी भी तय करनी पड़ेगी।

टिहरी में गिरी थीं बड़ी-बड़ी चट्‌टानें

इससे पहले सोमवार को उत्तराखंड के टिहरी में बड़ी-बड़ी चट्‌टानें अचानक सड़क पर गिर गई थीं। इस दिन हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भी लैंडस्लाइड हुई थी। यहां रामपुर के ज्योरी क्षेत्र में लैंडस्लाइड के बाद नेशनल हाईवे ब्लॉक हो गया, जिससे लोगों को परेशानी हुई।

प्रशासन ने पहले ही अलर्ट कर दिया था

जिला प्रशासन ने इस घटना से पहले ही इलाके में अलर्ट जारी कर दिया था। ऐहतियातन पुलिस के जवान भी तैनात कर दिए गए थे। जिसकी वजह से किसी भी तरह की जनहानि नहीं हुई। दो दिन पहले से ही यहां पहाड़ों से पत्थर गिरने का क्रम जारी था। इस बात की आशंका प्रशासन को पहले ही हो गई थी कि पहाड़ का बड़ा हिस्सा टूट सकता है।

Share.

Comments are closed.