पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी के लिए देशद्रोह का मामला दर्ज किया है।

भाजपा नेता आकाश सक्सेना की शिकायत पर रामपुर जिले के सिविल लाइंस थाने में रविवार रात प्राथमिकी दर्ज की गयी।

कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य 81 वर्षीय कुरैशी ने 2014-15 में मिजोरम के राज्यपाल के रूप में भी काम किया था।

वह शनिवार को समाजवादी पार्टी के नेता मोहम्मद आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा से उनके आवास पर मिलने रामपुर आए थे।

बाद में, मीडिया को संबोधित करते हुए, उन्होंने कथित तौर पर योगी सरकार की तुलना राक्षसों से की थी।

आकाश सक्सेना ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में यह भी कहा, कुरैशी द्वारा की गई टिप्पणी को सोशल मीडिया पर पसंद किया जा रहा है जो दो समुदायों के बीच तनाव पैदा कर सकता है यहां तक कि सांप्रदायिक दंगे भी हो सकता है।

कुरैशी पर धारा 153ए (धर्म, जाति, आदि के आधार पर दो समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 153बी (आरोप, राष्ट्रीय एकता के लिए हानिकारक दावे), 124ए (देशद्रोह) 505 1बी- (डर पैदा करने का इरादा) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

रामपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) संसार सिंह के अनुसार, आकाश सक्सेना द्वारा यूपी के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी प्रारंभिक जांच के बाद संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। हम कानून के अनुसार आगे की कार्रवाई करेंगे।

Share.

Comments are closed.