बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मुजफ्फरनगर में रविवार को हुई किसान महापंचायत के बहाने भारतीय जनता पार्टी, समाजवादी पार्टी और कांग्रेस पर निशाना साधा है।

उन्होंने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि किसानों की जबरदस्त महापंचायत में हिन्दू-मुस्लिम साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए किया गया प्रयास अति-सराहनीय कदम है। इससे मुजफ्फरनगर दंगों के गहरे जख्मों को भरने में थोड़ी मदद मिलेगी।

बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर कहा कि ‘यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में कल हुई किसानों की जबरदस्त महापंचायत में हिन्दू और मुस्लिम साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए किया गया प्रयास अति-सराहनीय है।

इससे निश्चय ही वर्ष 2013 में सपा सरकार में हुए भीषण दंगों के गहरे जख्मों को भरने में थोड़ी मदद मिलेगी लेकिन यह बहुतों को असहज भी करेगी बीएसपी चीफ मायावती ने इसी क्रम में अपने अगले ट्वीट में कहा कि ‘किसान देश की शान हैं।

महापंचायत में हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे के लिए मंच से साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए लगाए गए नारों से भाजपा की नफरत से बोई हुई उनकी राजनीतिक जमीन खिसकती हुई दिखने लगी है। मुजफ्फरनगर ने कांग्रेस और सपा के दंगा-युक्त शासन की भी याद लोगों के मन में ताजा कर दी है।’

Share.

Comments are closed.