छात्र ने ट्रेन के सामने कूदकर दी जान, पुलिस को जेब से मिला सुसाइड नोट, परिवार में मचा कोहराम

वाराणसी। भगवानपुर गांव स्थित रेलवे ओवरब्रिज के नीचे रविवार को स्नातक के एक छात्र ने ट्रेन के सामने कूद कर जान दे दी। ग्रामीणों से घटना की जानकारी पाकर पहुंची शिवपुर थाने की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस को छात्र के जेब से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। छात्र के आत्मघाती कदम से परिजनों में कोहराम मचा है।

जानकारी के अनुसार, बड़ागांव थाना अंतर्गत वाजिदपुर गांव निवासी राधेश्याम यादव के सबसे छोटा अजय कुमार यादव 22 वर्ष रविवार की सुबह घर से दौड़ने के लिए निकला था। इसके बाद वह अपने घर वापस नहीं लौटा। भगवानपुर गांव के ग्रामीणों ने सुबह देखा कि रेलवे ओवरब्रिज के नीचे ट्रैक पर एक युवक का क्षतविक्षत शव पड़ा हुआ था। ग्रामीणों ने शव की शिनाख्त अजय के तौर पर की और उसके परिवार को सूचना दी। इसके साथ ही 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस को घटना की जानकारी दी।

सूचना पाकर पहुंची शिवपुर थाने की पुलिस ने उसकी तलाशी ली तो अजय के जेब से सुसाइड नोट बरामद हुआ। सुसाइड नोट में उसने लिखा था कि मैं अपनी मौत का खुद जिम्मेदार हूं। मुझे इस दुनिया में जीने का मन नहीं करता है। इसलिए डिप्रेशन में आकर आत्महत्या कर रहा हूं। इसके लिए किसी को दोषी न ठहराया जाए। इसके साथ ही उसने अपने माता-पिता और भाई-बहन से मांफी मांगते हुए माफ करने के लिए भी लिखा था। मृतक की मौत पर पूरे गाँव मे शोक की लहर है। घटना से बेसुध अजय के माता-पिता और भाई-बहन को जिला पंचायत सदस्य मूलचंद यादव और ग्रामीण ढांढस बंधा रहे थे।

दीपक साहनी, द नेटिज़न न्यूज़,ब्यूरो चीफ वाराणसी

Share.

Comments are closed.