वाराणसी। रोहनिया थाना अंतर्गत माधवपुर गांव में शुक्रवार शाम मि‍ले युवती के शव के मामले में पुलि‍स को लीड मि‍ल चुकी है। पुलि‍स के अनुसार इस मामले में परि‍वारीजनों और सर्वि‍लांस व सीडीआर कॉल रि‍कॉर्ड की सहायता से शि‍वपुर नि‍वासी गोपी नाम के युवक की तलाश की जा रही है।

पुलि‍स के अनुसार मामले में संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ के दौरान गोपी पुत्र संजय कुमार निवासी अष्टभुजा कॉलोनी शिवपुर का नाम प्रकाश में आया है। मृतका व प्रकाश में आए संदिग्ध व्यक्ति गोपी के मोबाइल नंबरों का सीडीआर कॉल डिटेल का रि‍कॉर्ड चेक किया गया, जि‍समें मोबाइल लोकेशन से गोपी व मृतका के मोबाइल का लोकेशन घटनास्थल के पास ही पाया गया है। पुलि‍स के अनुसार पूरे मामले में यह तथ्य भी प्रकाश में आया है कि‍ गोपी व मृतका विगत 3 वर्षों से एक दूसरे को अच्छी तरह जानते पहचानते थे।

पुलि‍स के मुताबि‍क परिवार जन के मना करने के बाद भी गोपी चोरी चुपके युवती से मिलता था। वहीं युवती द्वारा परिवार जन के मना करने व पढ़ाई लिखाई करने के कारण गोपी से मिलना जुलना व बातचीत कम कर दी थी। जिससे लड़के को शक हुआ कि युवती का किसी दूसरे लड़के से अफेयर है। इसी शक के कारण दिन शुक्रवार को को गोपी युवती से मिलने स्कूल के बाहर आया और स्कूल के बाद मिला। बातचीत करने के बहाने शुलटकेश्वर मंदिर होते हुए वो उसे माधवपुर की झाड़ियों में ले गया। बातचीत के दौरान मौका देख कर ही उसने युवती की हत्या कर दी।

पुलि‍स अभियुक्त गोपी की तलाश में जुटी हुई है। इसके लि‍ये क्राइम ब्रांच वाराणसी, सर्विलांस टीम व थाना रोहनिया पुलिस की संयुक्त टीम लगी हुई है। वहीं शनि‍वार को मृतक युवती के शव का पोस्टमार्टम किया गया है। पुलिस द्वारा दुष्कर्म व अन्य तथ्यों के संबंध में भी पता लगाया जा रहा है, जिस के संबंध में डॉक्टर को रिपोर्ट भी भेजा गया है।

दीपक साहनी, द नेटिज़न न्यूज़,ब्यूरो चीफ वाराणसी

Share.

Comments are closed.