चंदौली ,, वाराणसी में नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत मुख्य रूप से कार्यरत प्रधानमंत्री जी का दूत दर्शन निषाद का नाम लोगों के जुबान पर रहता है डॉल्फिन कछुआ संरक्षण के साथ-साथ गंगा स्वच्छता पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्यरत गंगा प्रहरी दर्शन निषाद ने बताया कि जनपद चंदौली के कुंडा खुर्द कुंडा कला गांव में बाढ़ आपदा से गंगा का कटान बहुत तेजी से हो रहा है।

गांव का मुख्य रास्ता प्राचीन मंदिर गंगा में समा गया इसी को देखते हुए, वाराणसी में एक यूनिट गंगा टास्क फोर्स जो मुख्य रूप से गंगा की स्वच्छता और अविरलता के लिए गंगा के किनारे रहने वाले लोगों को जागरूक करने के लिए कुंभ महाकुंभ जैसे पर्व पर एवं गंगा के किनारे डाला छठ गंगा पूजा जैसे त्योहारों पर और पौधरोपण करके देश में जन-जन को जागरूक करने के लिए 137 CETF BN (TA) 39 GR गंगा टास्क फोर्स को लगाया गया है।

जो गंगा के किनारे कटान पर खस का पौधा लगाया जा रहा है जिसकी जड़ें झकड़ा जड़ होता है।जो मिट्टी के कटान को रोकता है।

बैर पीपल का पौधा लगाने के साथ-साथ गंगा स्वच्छता के लिए भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है जिसमें संबंधित गंगा टास्क फोर्स के जवानों का भूमिका अति सराहनीय है। उनके कार्यों को देख कर जन समुदाय में जागरूकता की एक ललक पैदा होती है जिसमें हम सभी क्षेत्रीय गंगा प्रहरी भी अपनी भूमिका निस्वार्थ रूप से मां गंगा के लिए अदा करते हैं

Share.

Comments are closed.