असलम खान
झांसी रेल मंडल में ट्रेनों में हुई लूटपाट की दो बड़ी घटनाओं के विरोध में आज कांग्रेसियों ने मंडल रेल प्रबंधक का घेराव किया। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री प्रदीप जैन आदित्य के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मंडल रेल प्रबंधक का घेराव करते हुए अब तक का घटना का पटाक्षेप न होने तथा आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर रोष जताया। इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि सरकार रेलवे को बेचने में लगी है और डकैत मस्त हो गए हैं। दो-दो ट्रेनें लुट गईं। यात्री पूरी तरह से असुरक्षित हैं।

सामान्य टिकट की दरों को भी बढ़ाकर आम लोगों को लूटने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि घटनाओं का खुलासा अभी तक न हो पाना रेलवे पुलिस की विफलता को उजागर करता है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने चेतावनी भी दी कि यदि घटनाओं का खुलासा नहीं हुआ तो तब तक राजकीय रेलवे पुलिस तथा रेलवे सुरक्षा बल का घेराव किया जाएगा, जब तक की घटनाओं का पर्दाफाश नहीं हो जाता और यात्रियों को न्याय नहीं मिल जाता।

एरच थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सगोली में एक किसान के पीने के पानी में गांव के ही एक युवक ने जहरीली दवा मिला दी, जिससे उसकी हालत बिगड़ गयी। इस मामले को लेकर पीड़ित किसान ने आज एसएसपी को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई किए जाने की मांग की। ग्राम सगोली में रहने वाले जगदीश अहिरवार ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दिए गए प्रार्थना पत्र में अवगत कराया कि वह खेत पर खड़ी अपनी मूंगफली की फसल की रखवाली करने के लिए गया था।

काम के दौरान वह खेत में बनी झोपड़ी में रखी पानी की बोतल से पानी पीने गया और जैसे ही पानी पीया, उसके मुंह में झनझनाहट हुई और उसे उल्टियां शुरू हो गई। झोपड़ी के पास खड़े राहुल नामक युवक से जब उसने इसका कारण पूछा तो राहुल ने उसके साथ मारपीट करते हुए कहा कि उसने उसके पानी में दवा मिलाई है। उसे जो दिखाई दे, वह कर ले। जगदीश का आरोप है कि राहुल द्वारा उसे जातिसूचक शब्दों का प्रयोग कर अपमानित भी किया गया। घटना की सूचना उसने थाने में दी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। प्रार्थना पत्र में उसने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की गुहार की है।

Share.

Comments are closed.