मालदा, 4 सितंबर । आसन्न दुर्गा पूजा के मद्देनजर ओल्ड मालदा में पुजारियों की एक बैठक हुई जिसमें पुजारियों को योग्य सम्मान और

पारंपरिक रूप से माँ दुर्गा की मूर्ति बनाये जाने सहित विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गयी । बैठक का आयोजन न्यू बंगाल प्रीस्ट

एसोसिएशन की ओर से शुक्रवार रात ओल्ड मालदा नगर पालिका के गौड़ भवन इलाके के एक दुर्गा मंदिर परिसर में किया गया. बैठक में

उपस्थित ओल्ड मालदा के सभी पुजारियों ने पूजा के आयोजना की विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की. न्यू बंगाल पुरोहित एसोसिएशन के

जिलाध्यक्ष मानस चटर्जी, सचिव अनुभव मित्रा, संजय मित्रा, ओल्ड मालदा ब्लॉक के सचिव समेत संगठन के अन्य पदाधिकरी बैठक में उपस्थित

थे। बैठक में यह बात सामने आई कि पूजा के दौरान अलग-अलग जगहों पर पुलिस बैरिकेड्स होने के कारण पुजारियों को यात्रा करने में

अत्यधिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में उन्हें पुलिस और प्रशासन से उचित अनुमति मिलनी चाहिए. इसके साथ ही पूजा

आयोजकों द्वारा विभिन्न स्थानों के पुजारियों से उचित सम्मान प्राप्त करने और दुर्गा पूजा के दौरान पारंपरिक रूप में देवी की मूर्तियाँ बनाने की

भी मांग की गई । न्यू बंगाल प्रीस्ट्स एसोसिएशन के मालदा के पूर्व सचिव संजय मित्रा ने कहा कि राज्य सरकार ने पुजारियों के भत्ते का भुगतान

करने की व्यवस्था की है। लेकिन 70 फीसदी पुजारियों को भत्ता बंद है. उन्होंने सरकार से तत्काल भत्ता चालू करने , विभिन्न विषयों की मूर्तियों

के बजाय देवी-देवताओं की पारंपरिक मूर्तियां बनाने की मांग की।

Share.

Comments are closed.