तहसील दि‍वस की तरह VDA में आयोजि‍त होगा प्राधि‍करण दि‍वस, बार बार ऑफि‍स का चक्‍कर लगाने से मि‍लेगी मुक्‍ति

वाराणसी। वाराणसी विकास प्राधिकरण में जनसामान्य की कठिनाइयों एवं समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए तहसील दिवस की भांति प्रत्येक माह के तीसरे गुरुवार को सुबह 10 बजे से नवीन प्राधिकरण सभागार, प्राधिकरण कार्यालय में “प्राधिकरण दिवस” का आयोजन होगा।

वाराणसी। वाराणसी विकास प्राधिकरण में जनसामान्य की कठिनाइयों एवं समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए तहसील दिवस की भांति प्रत्येक माह के तीसरे गुरुवार को सुबह 10 बजे से नवीन प्राधिकरण सभागार, प्राधिकरण कार्यालय में “प्राधिकरण दिवस” का आयोजन होगा।
वीडीए उपाध्‍यक्ष ईशा दुहन के अनुसार संवेदनशील एवं जवाबदेही प्रशासन सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में सम्मिलित है। यह अनुभव किया जा रहा है कि वर्तमान में आवासीय अभिकरणों में जन-समस्याओं के निराकरण के लिए आम जनता को प्रायः बार-बार प्राधिकरण कार्यालय का चक्कर लगाने के बावजूद भी उनकी समस्याओं को समयबद्ध निस्तारण नहीं हो पा रहा है। इससे लोगों को कठिनाइयों का सामना तो करना ही पड़ता है। इसी परेशानि‍यों के हल के लि‍ये प्राधि‍करण दि‍वस का आयोजन कि‍या जा रहा है।

प्राधिकरण दिवस का उद्देश्य
जनसामान्य एवं अधिकारियों के बीच सीधा संवाद स्थापित करना, जिससे नागरिकों को प्रशासन में अपनी सहभागिता महसूस हो।
जनता की समस्याओं को सुन समझकर उनका गुणवत्तापूर्ण निस्तारण।
यदि समस्या के लिए कोई अधिकारी/कर्मचारी उत्तरदायी पाया जाये, तो उसे उदाहरणात्मक रूप से दण्डित किया जाना और त्वरित निस्तारित करने वाले अधिकारियों को प्रशंसित करके उनका

प्राधिकरण दिवस के आयोजन की व्यवस्था
प्राधिकरण दिवस का आयोजन प्रत्येक माह के तृतीय गुरुवार को प्रातः 10 बजे से किया जायेगा। उक्त दिवस को अवकाश होने की स्थिति में दिवस का आयोजन अगले कार्य दिवस को किया जायेगा। प्राधिकरण दिवस पर उपाध्यक्ष, सचिव सहित सभी जिम्मेदार अधिकारी अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे।

मण्डलायुक्त/ अध्यक्ष द्वारा प्राधिकरण दिवसों में औचक निरीक्षण भी किया जायेगा। निरीक्षण में यह देखा जायेगा कि सभी सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित हैं या नहीं, शिकायतों को प्रभावी ढंग से सुना जा रहा है या नहीं, पूर्व की लम्बित शिकायतों के निस्तारण की गुणवत्ता का स्तर का क्या है?

Share.

Comments are closed.