मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत को देखते हुए पुलिस प्रशासन चौकन्ना हो गया है। किसानों की महापंचायत में भारी भीड़ इकट्ठा होने की संभावना को देखते हुए अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था की तैयारी की है।

किसानों की महापंचायत को लेकर हापुड़ में डीएम ने तीन मजिस्ट्रेट तैनात किए हैं। तीन सेक्टरों में जिला बांटा गया है। हापुड़ डीएम ने पांच सितंबर को जिले की समस्त शराब की दुकानों को बंद रखने आदेश दिए हैं।

5 सितंबर को भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर मुजफ्फरनगर में होने वाली महापंचायत को लेकर पुलिस ने सुरक्षा घेरा तैयार कर लिया है। हापुड़ जनपद में बुलंदशहर, अलीगढ़, अमरोहा,आदि पड़ोसी जनपद के किसानों के से बढ़ने वाले ट्रैफिक को देखते हुए हापुड़ को तीन जोन,दो सुपर जोन और नौ सेक्टर बनाए गए हैं।

संयुक्त मोर्चा की अपील पर पांच सितंबर को मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत हो रही है। इस पंचायत में लाखों किसान जुटने की उम्मीद है। यूपी, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के अलावा कर्नाटक और तमिलनाडु , केरल जैसे राज्यों से भी किसानों के समूह आना शुरू हो गए हैं।

गाजीपुर बार्डर पर तमिलनाडु और केरल के अलावा दूसरे राज्यों से भी किसानों के गुट पहुंचे हैं. भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत ने कहा कि पांच सितंबर की पंचायत को किसान और मजदूर अपने सम्मान से जोड़कर देख रहे हैं।

Share.

Comments are closed.