शिक्षक दिवस से ठीक दो दिन पहले एक शिक्षक द्वारा गुरु शिष्य के रिश्तों को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) के संबद्ध संस्थानों के छात्रों की चल रही इंजीनियरिंग की ऑनलाइन सेमेस्टर परीक्षा के दौरान शिक्षक (प्रॉक्टर) द्वारा छात्रा पर अशोभनीय टिप्पणी की गई।

प्रॉक्टर की टिप्पणी पर कोई प्रतिक्रिया न देने पर छात्रा को परीक्षा रोकने की भी धमकी दी गई। एकेटीयू को मामला तब संज्ञान में आया जब इंटरनेट मीडिया पर और छात्रा द्वारा इसकी शिकायत की गई। ऐसे दो मामले रहे जिनसे विवि प्रशासन को शर्मसार होना पड़ा।

मामला गुरुवार का है। एकेटीयू की ऑनलाइन परीक्षा के दौरान एमआईईटी मेरठ के शिक्षक संदीप सिंह को प्रॉक्टरिंग के लिए लगाया गया था। प्रॉक्टरिंग के दौरान संदीप सिंह ने छात्रा का उत्पीड़न करना शुरू कर दिया। ​संदीप सिंह ने छात्रा से चैट में लिखा है कि तुम बहुत खूबसूरत हो, परीक्षा के बाद मुझसे मिलोगी? मामला संज्ञान में आने के बाद विश्वविद्यालय के अधिकारियों के होश उड़ गए।

प्रकरण चल ही रहा था कि आजमगढ़ के राहुल सांकृत्यायन कॉलेज ऑफ फार्मेसी के शिक्षक अजीमुद्दीन द्वारा एक छात्रा पर अभद्र टिप्पणी का मामला सामने आ गया। विवि प्रशासन ने दोनो शिक्षकों पर कार्रवाई करते हुए उन्हें परीक्षा के सभी कार्यों से अलग कर दिया।

पॉलिटेक्निक की ऑनलाइन सेमेस्टर परीक्षाओं के दौरान व्यापक स्तर पर नकल के मामले, पेपर लीक होने जैसी घटनाएं व बनियान पहन कर ऑनलाइन परीक्षा देने जैसे प्रकरणों से प्राविधिक शिक्षा को तो शर्मसार होना ही पड़ा।

वहीं अब इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों की ऑनलाइन परीक्षा के दौरान शिक्षकों द्वारा ऐसी हरकत किए जाने से रही सही कसर भी पूरी हो गई। ऐसे हालात में जिम्मेदारों को यह सोचना होगा कि ऑनलाइन परीक्षा किस हद तक माकूल ह

Share.

Comments are closed.