मालदा; 3 सितंबर: भीषण आग में हरिश्चंद्रपुर के हाटखोला में गुरुवार देर रात मछली मंडी समेत चाय की एक दुकान जलकर राख हो गई।

आजलगी में लाखों रुपये के नुकसान की खबर है । हरिश्चंद्रपुर थाना परिसर भी आग के चपेट में आने से बाल बाल बचा. बाजार में एक चाय की

दुकान में रखे दो गैस सिलिंडरों में विस्फोट से आग ने भयानक रूप ले लिया। आग लगने के सूचना तत्काल दमकल विभाग को दी गई। आग

लगने के एक घंटे के भीतर दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची और एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि, तब

तक चाय की दुकान समेत मछली मंडी जल कर राख हो चुकी थीं।स्थानीय सूत्रों के मुताबिक,सुबह करीब तीन बजे स्थानीय लोगों ने हरिश्चंद्रपुर

थाना से सटे आढ़त में आग लगते देखा . उस समय इलाके के सभी लोग सो रहे थे। आग की लपटों और दुकानों के जलने की आवाज से इलाके

के लोग जाग गए। वे इसे पानी से बुझाने की कोशिश करते रहे । स्थानीय लोगों का मानना है कि आग चाय की दुकान से लगी होगी . हालांकि

स्थानीय व्यापारियों का दावा है कि, यहां बिजली का कनेक्शन नहीं है, इस लिए शॉर्ट सर्किट का कोई सवाल ही नहीं है। इसके पीछे उन्हें

साजिश की बू आ रही है. प्रभावित कारोबारियों के मुताबिक आग किसी न किसी के साजिश के तहत आग लगाई . भीषण आग से बेबस चाय

की दुकान के मालिकों समेत अन्य मछली व्यापारियों का सब कुछ खत्म हो गया है. क्षेत्रवासियों की गतिविधियों से हरिश्चंद्रपुर थाना व हाटखोला

क्षेत्र की इमारत बच गई। स्थानीय लोगों ने शिकायत की कि आग लगते ही फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई, लेकिन दमकल के पहुंचने में देरी के

कारण आग फैल गई। बाजार के कई व्यापारियों के घर क्षतिग्रस्त हो गए।

Share.

Comments are closed.