रायबरेली के महाराजगंज क्षेत्र में सोमवार की भोर दरवाजे चारपाई पर सो रहे भाई-बहन पर एक शोहदे ने एसिड फेंक दिया। घायल भाई बहन को गंभीर स्थिति में लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

आरोपित युवक को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। एक गांव निवासी युवती रविवार की रात भोजन करने के उपरांत अपने 12 साल के भाई के साथ दरवाजे चारपाई पर सोने चली गई थी।

सोमवार की भोर में दोनों पर एसिड से हमला कर दिया गया। उनकी चीख सुनकर परिवार के लोग मदद के लिए दौड़े। घटना की सूचना तुरंत 112 नंबर पर दी गई। मौके पर पहुंचे पीआरवी ने उन्हें सीएचसी पहुंचाया हालत नाजुक होने पर दोनों को जिला अस्पताल और फिर ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया।

एसिड अटैक की वारदात से पुलिस महकमे में अफरा तफरी मच गई। आनन फानन पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव सबसे पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र महाराजगंज पहुंचे और युवती व उसके भाई से हमले के संबंध में जानकारी ली।

एसपी के आदेश पर फॉरेंसिक टीम भी यूपी के गांव पहुंचे और साक्ष्य जुटाए। उसकी चारपाई से कुछ दूरी पर ही एक बोतल मिली जिसमें एसिड था। पीड़िता के पिता ने कप्तान को बताया कि पूरे तोमर दास गांव निवासी बबलू उसकी बेटी के साथ छेड़छाड़ करता था। फोन करके परेशान करता था।

होली में उसने इस बात के लिए बबलू को फटकारा तो दोनों में झगड़ा हो गया था। तभी से बबलू उसकी बेटी को नुकसान पहुंचाने के लिए साजिश रच रहा था। उसी में उसकी बेटी व बेटे पर एसिड से हमला किया है। पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया है।

पुलिस अधीक्षक और अपर पुलिस अधीक्षक ने भी उससे पूछताछ की है। एसपी श्लोक कुमार ने बताया कि भाई बहन के ऊपर एसिड अटैक हुआ है आरोपित को पकड़ लिया गया है।

वहीं, रविवार की रात चोरों ने पीड़िता के चाचा के घर से नगदी समेत करीब एक लाख के जेवरात पार कर दिए। गांव में एक साथ दो-दो वारदाते होने से ग्रामीण सहमे हुए हैं।

Share.

Comments are closed.