कानपुर नगर से चलकर रोडवेज की आगरा फोर्ट डिपो की बस लगभग 50 सवारियों को लेकर आगरा के लिए निकली थी। बस में कानपुर, इटावा, शिकोहाबाद, फिरोजाबाद, आगरा, अलीगढ़ की सवारियां थीं।

रात करीब सवा दो बजे बस इटावा के बकेवर थाना क्षेत्र से गुजर रही थी, तभी वह हाइवे पर खड़े 22 चक्का ट्राला से पीछे से तेजी से टकरा गई। बस की कन्डक्टर साइड के आधे हिस्से के परखचे उड़ गए।

बस में बैठी सवारियों में चीख पुकार मच गई और लगभग 30 यात्री गंभीर रूप से घायल हो गये। हादसे के बाद यात्रियों की चीख पुकार सुनकर आसपास गांव के लोग मदद के लिए दौड़ पड़े और पुलिस को दुर्घटना की जानकारी दी। हादसे के बाद बस का ड्राइवर मौके से भाग गया।

सूचना पर एसपी ग्रामीण ओमवीर सिंह, सीओ भरथना पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गए। पुलिस ने आनन फानन में रेस्क्यू अभियान चलाकर बस में फंसे घायल यात्रियों को एम्बुलेन्स व निजी वाहनों की मदद से अस्पताल भिजवाया।

वहां डॉक्‍टरों ने एक साल के मासूम अलीगढ़ के आदित्य, हमीरपुर के निरपत समेत तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया। 30 घायलों में एक महिला समेत सात लोगों की हालत नाजुक होने पर उन्हें सैफई रेफर किया गया है। जिला अस्पताल में सीएमएस एमएम आर्या समेत पांच डॉक्टरों की टीम घायलों के इलाज में जुटी है।

Share.

Comments are closed.