कानपुर से सटे घाटमपुर में एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। यहां छेड़छाड़ व पॉक्सो एक्ट के आरोपी ने जेल से छूटते ही उसी लड़की का अपहरण कर लिया जिसके आरोप पर वह जेल गया था। उसने ना सिर्फ पीड़िता का अपहरण किया बल्कि उसे तीन दिनों तक अपनी हवस का शिकार बनाता रहा।

बताया जा रहा है कि जमानत मिलते ही वह सीधे लड़की के गांव पहुँचा और उसे उठा ले गया। पीड़िता को उठा ले जाने के बाद आरोपी तीन दिन तक दुष्कर्म करता रहा। जब लड़की की हालत बिगड़ी तो घर के बाहर फेंककर भाग गया था।

थानाध्यक्ष साढ़ रविंद्र सिंह ने बताया कि पीड़िता द्वारा शिकायत करते ही आरोपी अरविंद को हिरासत में ले लिया गया है। प्रथमदृष्ट्या मामला प्रेम प्रसंग का लग रहा है। फिर भी आरोपों की जांच की जा रही है। बाद जांच विधिनुसार कार्रवाई की जाएगी।

इस मामले में किशोरी के परिजनों ने साढ़ थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया है कि, अरविंद पासवान के खिलाफ एक वर्ष पहले छेड़छाड़ और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया था।

इस मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जमानत पर छूटने के बाद 17 अगस्त की देर शाम किसी काम से निकली किशोरी को वह नशीला पदार्थ सुंघाकर उठा ले गया।

परिवार के मुताबिक, आरोपी उसके साथ तीन दिन तक दुष्कर्म करता रहा। फिर गंभीर हालत में घर के बाहर फेंक कर भाग गया। लोकलाज के डर से परिजन तीन दिन मामला दबाए रहे।

मंगलवार 24 अगस्त को परिजनों के साथ किशोरी ने थाने आकर तहरीर दी थी। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Share.

Comments are closed.